Tue. May 21st, 2019

अठाहरवां नेपाल राष्ट्रीय हिन्दी सम्मेलन में डा.श्वेता दीप्ति को पार्वती स्मृति पुरस्कार प्रदान, फोटो सहित


जनकपुरधाम, ५ मई२०१९ | नेपाल राष्ट्रीय हिंदी सम्मेलन का कल्ह शनिवार को एक भव्य समारोह के बिच उद्घाटन किया गया | नेपाल हिन्दी प्रतिष्ठान के द्वारा आयोजित अठाहरवां नेपाल राष्ट्रीय हिन्दी सम्मेलन में पन्द्रहवे पार्वती स्मृति पुरस्कार से केन्द्रीय हिन्दी विभाग की पूर्व अध्यक्ष एवं हिमालिनी की सम्पादक डा. श्वेता दीप्ति को पुरस्कृत किया गया है । यह पुरष्कार वरिष्ट साहित्यकार डा. रामदयाल राकेश द्वारा स्थापित किया गया है | उन्हें यह पुरस्कार नेपाल और भारत दोनों देशों में हिन्दी भाषा साहित्य के क्षेत्र में उल्लेखनीय, उदाहरणीय एवं स्मरणीय योगदान करने हेतु दिया गया । कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रुप में प्रदेश न २ के भौतिक पूर्वाधार विकास मन्त्री श्री जितेन्द्र सोनल जी की उपस्थिति थी । विशिष्ठ अतिथि के रुप में आन्तरिक मामिला मन्त्री श्री ज्ञानेन्द्र कुमार यादव जी, उपकुलपति राजर्षि जनक विश्वविद्यालय के प्रा.डा. भरत झा जी, भारतीय महावाणिज्य दूतावास वीरगंज के काउन्सुलर श्री रमेश चतुर्वेदी जी, शान्ति निकेतन हिन्दी प्रचार सभा पश्चिम बंगाल के महासचिव डा. रामचन्द्र राय जी, प्रतिष्ठान के सल्लाहकार श्री खुशीलाल मण्डल जी, श्री बलराम नायक जी, डा. शिवशंकर यादव जी की उपस्थिति थी ।

कार्यक्रम के प्रमुख अतिथि भौतिक पूर्वाधार विकासमन्त्री जितेन्द्र सोनल ने कहा कि हिन्दी भाषा की संरक्षण और सम्वर्धन जरूरी है । उन्होंने कहा कि यहाँ हिंदी वोलने वालों की संख्या अत्यधिक है इसलिए हिंदी के साथ कोई भेदभाव उचित नही होगा | हिंदी को सम्पर्क भाषा के रूप में मन्यता मिलनी चाहिए |

इसीतरह प्रदेश २ के आन्तरिक मामिला तथा कानून मन्त्री श्री ज्ञानेन्द्र कुमार यादव ने कहा कि प्रदेश में  हिन्दी भाषा को सम्पर्क और कामकाज की भाषा के रुपमे मन्यता मिलनी चाहिए | उन्होंने यह भी कहा कि प्रदेश में नेपाली, मैथिली, मगहि, भोजपुरी सभी भाषायें वोली जाती है जिसे जोड़ने का कम हिंदी करती है |  उन्होंने यह भी दावा किया कि नेपाल में सबसे ज्यादा हिंदी वोली जाती है लेकिन हिंदी के साथ पक्षपात किया जाता है | समारोह आयोजक संस्था नेपाल हिन्दी प्रतिष्ठान के अध्यक्ष तथा बरिष्ट पत्रकार राजेश्वर नेपाली की अध्यक्षता में हुई |

आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

avatar
  Subscribe  
Notify of