Wed. Nov 21st, 2018

साहित्य

हरिवंशराय बच्चन का नाम सुनते ही याद आती है मधुशाला : मनीषा गुप्ता

खुद को गौरवान्वित महसूस होता है आज इतने महान लेखक कवि स्वर्गीय हरिवंश बच्चन राय

साहित्य में सहित का भाव होता है और सहित हमें जोड़ता है : श्वेता दीप्ति

नेपाल भारत मैत्री संघ द्वारा आयोजित “भारत नेपाल काव्य सेतु” का लोकार्पण कार्यक्रम में त्रि.वि.वि

डॉ. राणा की उड़ान के साथ.. : डॉ.श्वेता दीप्ति (अठारहवीं गजल संग्रह का विमोचन)

डॉ.श्वेता दीप्ति, काठमांडू, ८ सेप्टेम्बर | हमें भेजा है दुनिया में, निशानी छोड़ जानी है,

हिन्दी साहित्य जगत के प्रकाण्ड विद्वान हजारी प्रसाद दि्वेदी का अाज है जन्मदिन

१९अगस्त मूल नाम : बैजनाथ द्विवेदी जन्म : 19 अगस्त 1907, दुबे का छपरा (गाँव), बलिया (उत्तर

सांस्कृतिक रिश्तों की नींव राजनीतिक प्रहार से कमजोर नहीं होते : डॉ.श्वेता दीप्ति

डॉ.श्वेता दीप्ति, काठमांडू, १५ अगस्त, २०१७ |  हेल्मबु की जननी पार्वती की क्रीड़ा भूमि हिमाचल

प्रेम का प्रतिक रक्षाबन्धन : विनोदकुमार विश्वकर्मा `विमल`

                                                                                                                             विनोदकुमार विश्वकर्मा `विमल`       येन बद्धो बलिराजा दानवेन्द्रो महाबल      तेन त्वामापी बध्नामिरक्षे मा चल

बेटियाँ बचाओ : विनोदकुमार विश्वकर्मा `विमल `

                                                                                                                      विविनोदकुमार विश्वकर्मा `विमल ` , काठमांडू | रोज समाचार का   शीर्षक वही-हत्या ,दुष्कर्म ,छेडछाड,छुआछूत,भेदभाव ,घर

बेशर्मी की भी हद है, खुले आम सौदा हो रहा है किस मंत्रालय में कितना पैसा : सुरभि

सुरभि, बिराटनगर | कुछ दिनों पूर्व जब मैंने एक व्यंग्य (भाई व्यंग्य को पचाने की

भारत की प्रथम स्वतंत्रता संग्राम १८५७ : भूमिहार ब्राह्मण का योगदान : प्रेमचन्द्र सिंह

प्रेमचन्द्र सिंह, लखनऊ | भारत में ब्रिटिश उपनिवेशवाद के विरुद्ध पहली बार खूनी क्रांति का

इसबार कें विद्यापति पुरस्कार मिथिला नाट्य कला जनकपुर को प्रदान

हिमालिनी डेस्क काठमांडू, ४ जुलाई । राष्ट्रपति विद्यादेवी भण्डारी ने भाषा, साहित्य और संस्कृति के

मदनभण्डारी राष्ट्रीय पत्रकारिता पुरस्कार वरिष्ठ पत्रकार कमल कोइराला को

१५ असार,काठमाडौं । इस वर्ष का मदन भण्डारी राष्ट्रीय पत्रकारिता पुरस्कार बरिष्ठ पत्रकार तथा लेखक

ज्यादातर दुसरें भाषा से नेपाली भाषा के अनुवाद किया हैं, सुधार के लिए संस्कृत का अध्ययन जरुरी

हिमालिनी डेस्क काठमांडू, १५ जून । भाषाविदों ने नेपाली भाषा में सुधार के लिए संस्कृत