Thu. Oct 17th, 2019

अरुण जेटली अभी भी आइसीयू में, हालत स्थिर

नई दिल्ली।

एम्स में पिछले शुक्रवार से भर्ती पूर्व वित्तमंत्री अरुण जेटली अभी भी अस्पताल की ICU में ही भर्ती हैं और उनकी हालत नाजुक लेकिन ‘हीमोडायनैमिकली’ स्थिर है। सूत्रों ने मंगलवार को यह जानकारी दी।
‘हीमोडायनैमिकली’ स्थिर होने का मतलब है कि मरीज का दिल ठीक तरीके से काम कर रहा है और उसके शरीर में रक्त का संचार सामान्य है। अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) ने शुक्रवार के बाद जेटली के स्वास्थ्य के संबंध में कोई बुलेटिन जारी नहीं किया है।

उपराष्ट्रपति एम. वेंकैया नायडू, जेटली के स्वास्थ्य की जानकारी लेने शनिवार को एम्स गए थे। तब उनके कार्यालय ने कहा था कि पूर्व मंत्री पर उपचार का असर हो रहा है।
शुक्रवार को हुए थे भर्ती : 66 वर्षीय जेटली को दिल की धड़कन तेज होने और बेचैनी की शिकायत के बाद शुक्रवार सुबह एम्स के आईसीयू में भर्ती कराया गया था। चिकित्सकों ने तब कहा था कि उनकी हालत ‘हीमोडायनैमिकली’ स्थिर बनी हुई है और विभिन्न क्षेत्र के विशेषज्ञ चिकित्सकों की टीम उनके उपचार की निगरानी कर रही है। अस्पताल ने शनिवार या रविवार को जेटली के स्वास्थ्य के संबंध में कोई ताजा बुलिटेन जारी नहीं किया।
बड़े नेताओं ने की थी मुलाकात : प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह, रक्षामंत्री राजनाथ सिंह, लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला, केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन, वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण, केंद्रीय स्वास्थ्य राज्यमंत्री अश्विनी चौबे, भाजपा के कार्यकारी अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा, लोकतांत्रिक जनता दल के प्रमुख शरद यादव समेत कई नेता शुक्रवार को अस्पताल गए थे।
नहीं लड़ा 2019 का लोकसभा चुनाव : जेटली को इसी वर्ष मई में उपचार के लिए एम्स में भर्ती कराया गया था। पेशे से वकील जेटली ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की अगुवाई वाली पहली राजग सरकार में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी।

जेटली ने स्वास्थ्य कारणों से 2019 का लोकसभा चुनाव नहीं लड़ा था। जेटली का पिछले वर्ष 14 मई को किडनी प्रतिरोपण हुआ था। उन्होंने अप्रैल 2018 से कार्यालय आना बंद कर दिया था और वे 23 अगस्त 2018 को वित्त मंत्रालय में लौटे थे। (भाषा)

आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *