Wed. Apr 8th, 2020

चीन में कोरोना वायरस दिन प्रतिदिन घातक,मृतकों की संख्या बढ़कर 490

  • 4
    Shares

चीन में कोरोना वायरस दिन प्रतिदिन घातक होते जा रहा है। चीन में कोरोना वायरस के कहर का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि इससे मरने वालों की संख्या में लगातार इजाफा हो रहा है। कोरोना वायरस से चीन में मरने वालों की संख्या करीब 500 पहुंचने वाली है। समाचार एजेंसी एएफपी के मुताबिक, चीन में कोरोना वायरस की चपेट में आए मृतकों की संख्या बढ़कर 490 हो गई है और 24,000 से ज्यादा मामलों की पुष्टि हुई है।

इस बीच, चीनी अधिकारियों की चुप्पी को लेकर एक बड़ा खुलासा हुआ है। बताया जा रहा है कि वुहान के एक डॉक्टर ने पिछले साल दिसंबर में ही जानलेवा वायरस के पहले मामले से उन्हें अवगत कराया था। चीन ने वायरस का प्रसार रोकने के प्रयासों के तहत सोमवार को 1000 बिस्तरों वाला एक अस्थायी अस्पताल वुहान में खोला। इस अस्पताल को रिकार्ड नौ दिन में तैयार कर लिया गया। बता दें कि वुहान में ही सबसे ज्यादा मामले सामने आए हैं ।

बताया जा रहा है कि आज यानी बुधवार को 1300 बिस्तरों वाला एक और अस्पताल तैयार हो जाएगा। इस दोनों अस्पताल को सेना के सैकड़ों चिकित्सा कर्मी चलाएंगे। चीन में घातक कोरोना वायरस के 24,00 मामलों की पुष्टि हुई है।

यह भी पढें   पुनर्बीमा कंपनी की आईपीओ नतीजा सार्वजनिक, योग्य हर आवेदकों को ४० कित्ता शेयर

उधर, विश्व स्वास्थ्य संगठन ने मंगलवार को कहा कि घातक कोरोना वायरस पर अंकुश लगाने के लिए चीन द्वारा किए गए उपायों से यह बीमारी विदेशों में अधिक नहीं फैली और अब इसने उसके प्रसार को रोकने के लिए एक मौका उपलब्ध कराया है। हालांकि, संरा स्वास्थ्य एजेंसी प्रमुख ने व्यापक एकजुटता की भी अपील की। उन्होंने कुछ धनी देशों पर वायरस के मामलों पर आंकड़े साझा करने में पीछे रहने का आरोप लगाया। जिनेवा में डब्ल्यूएचओ की कार्यकारी बोर्ड की तकीनीकी ब्रीफिंग में टेडरोस ने कहा, ’99 फीसदी मामले चीन में हैं, जबकि शेष विश्व में सिर्फ 176 मामले हैं।’

यह भी पढें   योगी सरकार का बड़ा फैसला,15 जिलों को किया पूरी तरह सील

कोरोना वायरस की चपेट में आए लोगों में दो तिहाई पुरूष
चीन के स्वास्थ्य मंत्रालय की एक अधिकारी ने मंगलवार को बताया कि कोरोना वायरस की चपेट में आने वाले लोगों में दो तिहाई पुरूष हैं और मृतकों में 80 प्रतिशत 60 साल से ऊपर के थे। चीन के राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग की एक अधिकारी जिआओ याहुई ने यहां मीडिया को बताया कि मृतकों में दो तिहाई पुरूष थे और एक तिहाई महिलाएं। याहुई ने बताया कि मृतकों में 80 प्रतिशत से ज्यादा लोगों की उम्र 60 साल से अधिक थी। इसके अलावा 75 प्रतिशत लोगों में दिल की बीमारी, मधुमेह, ट्यूमर की समस्या थी। याहुई ने कहा कि इन बीमारियों से जूझ रहे बुजुर्ग लोगों के संक्रमण की चपेट में आने का बहुत ज्यादा खतरा है ।

यह भी पढें   धगगढी में कल से होगा कोरोना परीक्षण

कोरोना वायरस: जानिये किस देश में कितने मामले?

एशिया-प्रशांत क्षेत्र में आने वाले देशों में कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या इस प्रकार है;
सिंगापुर- 24
जापान-20
थाईलैंड-19
हांगकांग- 17, एक व्यक्ति की मौत समेत
दक्षिण कोरिया- 16
ऑस्ट्रेलिया- 12
मलेशिया -10
ताइवान – 10
वियतनाम- 10
मकाऊ – 9
भारत- 3
फिलिपींस- 2, एक व्यक्ति की मौत समेत
नेपाल, श्रीलंका और कंबोडिया- 1-1

इसके अलावा उत्तरी अमेरिका में भी कोरोना वायरस के मामले सामने आए हैं जोकि इस प्रकार हैं:
अमेरिका- 11
कनाडा- 4

कोरोना वायरस ने यूरोपीय देशों को भी अपनी चपेट में लिया है, जिसके आकंड़े इस प्रकार हैं:
जर्मनी-12
फ्रांस-6
ब्रिटेन-2
इटली-2
रूस-2
फिनलैंड, स्पेन, स्वीडन- 1-1
वहीं पश्चिम एशिया में केवल संयुक्त अरब अमीरात में ही 5 मामले सामने आए हैं।

हिन्द्स्तान से साभार

Loading...

 
आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: