Sun. Dec 8th, 2019

मिडास टच ‘धोनी, कैप्टन कूल’

भारतीय प्रशंसक द्वारा हाथ में लिए प्लेकार्ड ‘धोनी, कैप्टन कूल’ से भारतीय क्रिकेट कप्तान महेंद्रसिंह धोनी के जादू और उनके ‘मिडास टच’ को बखूबी समझा जा सकता है।

धोनी ने आईसीसी चैम्पियंस ट्रॉफी में बीती रात इंग्लैंड पर मिली जीत के बाद कहा, ‘मैं बतौर कप्तान कुछ भी विशेष उपलब्धि हासिल करने के लिए मैदान पर नहीं उतरता।’ भारत की ओर से क्रिकेट के सभी प्रारूपों (टेस्ट, वनडे और टी20) में सबसे सफल क्रिकेट कप्तान के मुंह से ये शब्द काफी शालीनताभरे लगते हैं।

उन्होंने कहा, ‘मेरे लिए मैच जीतना सबसे ज्यादा अहम है और बतौर टीम हमारे लिए ज्यादा महत्वपूर्ण है।’ इस 31 वर्षीय कप्तान के लिए चैम्पियंस ट्रॉफी जीतने से 2007 में टी20 विश्वकप हासिल करने से शुरू हुए सफर के दौरान जीत का शानदार चक्र पूरा हो गया है।

dhoni nepal hindi
मिडास टच ‘धोनी, कैप्टन कूल’

धोनी दुनिया के सर्वश्रेष्ठ कप्तान : भारत ने धोनी की अगुवाई में 2011 वनडे विश्वकप जीता था और कल की जीत से भारत के सर्वश्रेष्ठ कप्तान के उनके दर्जे की दोबारा पुष्टि हो गई। अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में किसी अन्य कप्तान ने आईसीसी के तीनों मेजर टूर्नामेंट नहीं जीते हैं।

ब्रिटिश मीडिया भी टीम इंडिया पर फिदा : ब्रिटिश मीडिया ने भी ‘व्यवहारिक और शांत कप्तान’ की तारीफ करते हुए उनकी नेतृत्व क्षमता को सुखिर्यां दीं, जिससे भारतीय टीम 129 रन के लक्ष्य का बचाव कर बारिश से प्रभावित फाइनल में पांच रन की रोमांचक जीत दर्ज करने में सफल रही।

धोनी व्यावहारिक और शांत कप्तान : ‘द इंडिपेंडेंट’ ने लिखा, ‘भारत मुश्किल से विश्वास कर सकता था कि क्या हो रहा था, हालांकि महेंद्रसिंह धोनी के लिए मैदान पर शायद यह एक सामान्य दिन था, जो काफी व्यावहारिक और शांत कप्तान हैं।’

इंग्लैड शुरू से दबाव में रहा : ‘द इंडिपेंडेंट’ ने लिखा, ‘भारत ने शुरू से ही इंग्लैंड को दबाव में डाल दिया और इतने समय बाद वह जानता है कि क्रिकेट के छोटे प्रारूप में कुछ भी हो सकता है और ऐसा होता ही है।’

धोनी ने खेला मास्टर स्ट्रोक : ‘डेली टेलीग्राफ’ ने धोनी के अंतिम दो ओवर स्पिनरों से कराने के फैसले को ‘मास्टर स्ट्रोक’ करार किया। उसने लिखा, ‘..पूरी तरह से उलझन भरी परंपरा, महेंद्र सिंह धोनी ने अंतिम दो ओवर स्पिनरों को दिए। क्रिकेट के छोटे प्रारूप में स्पिन की सफलता हैरानी भरी रही है और धोनी का यह विकल्प ‘मास्टर स्ट्रोक’ था।’

भारत ने स्मार्ट क्रिकेट खेला : ‘डेली मिरर’ ने भी भारतीय कप्तान की तारीफ करते हुए कहा, ‘भारत ने काफी स्मार्ट क्रिकेट खेला और धोनी ने टीम की अगुवाई शानदार तरीके से की, जिन्होंने मैदान पर अपने खिलाड़ियों और गेंदबाजों का चतुराई से इस्तेमाल कर इंग्लैंड को पस्त कर दिया।’

दर्शक रोमांचित हो गए : ‘गार्डियन’ ने लिखा कि भारतीय कप्तान महेंद्रसिंह धोनी ने दांव खेलना शुरू किया। विपक्षी टीम के बल्लेबाजों को शानदार क्षेत्ररक्षण से रोका और गेंदबाजों से अच्छी गेंदबाजी कराई जिससे दर्शक रोमांचित हो गए।

Loading...

 
आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: