Mon. May 20th, 2024

श्रीराम के ससुराल से 1100भार अयोध्या भेजा जाएगा, तैयारी शुरू



जनकपुरधाम/मिश्री लाल मधुकर। जगत जननी माता सीता की भूमि जनकपुरधाम से जानकी मंदिर के महंत की अगुवाई में 1100भार सीता की ससुराल अयोध्या भेजा जाएगा। इसके लिए तैयारियां शुरू हो गयी है। शनिवार को जानकी मंदिर में महंत राम तपेश्वर दास बैष्णव की अध्यक्षता में एक बैठक संपन्न हुई।जिसमें निर्णय लिया गया कि अयोध्या में प्रभु राम की मंदिर का उद्घाटन 22जनवरी को हैं यानी प्रभु श्री राम का गृह प्रवेश हैं। मिथिला परंपरा के मुताबिक ससुराल से भारत,नये परिधान सहित अन्य सामग्री भेजा जाता है।इसी परंपरा को निर्वाह किया जा रहा है। जानकी मंदिर से 1100भार भेजा जाएगा।इसके लिए जनकपुरधाम सहित मिथिला के सभी इच्छुक लोग अपनी सामर्थ्य के अनुसार बांस की डाला में सामग्रियां रखकर नाम लिख सकते हैं । भार में मखान,पूरी खीर , चूड़ा, दही, बिभिन्न प्रकार के मिठाइयां, विभिन्न प्रकार के फल , विभिन्न प्रकार के अन्न सहित अन्य सामग्री भेजा जाएगा। भार जानकी मंदिर से 4तारीख को जलेश्वर , मलंगवा,सिमरौनगढ होते हुए वीरगंज पहुंचेगी। वीरगंज में रात्रि विश्राम के बाद 5जनवरी को रक्सौल, गोपालगंज, कुशीनगर, गोरखपुर होते हुए अयोध्या पहुंचेगी।6जनवरी को राम जन्मभूमि तीर्थ ट्रस्ट को सौपी जाएगी। भार के साथ करीब तीन सौ लोगों की जत्था दर्जनों गाड़ी के साथ अयोध्या तक जायेंगे। भार भेजने की तैयारी शुरू हो गयी है। उत्तराधिकारी महंत रोशन दास बैष्णव ने कहा है कि त्रेता युग के बाद प्रथम बार जनकपुरधाम के लिए जनकपुरधाम से भार भेजा जा रहा है।



About Author

यह भी पढें   धूमधाम से जनकपुरधाम में जानकी नवमी मनायी गयी
आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading...
%d bloggers like this: