Fri. Aug 14th, 2020

महामारी में जरूरतमंदों का सेवा सबसे बड़ा धर्म : पूर्व विधायक  जाकिर अनवर

  • 36
    Shares


माला मिश्रा बिराटनगर। हमेशा अपने दर्जनों मित्र व समर्थकों के साथ इफ्तार करने बाला अररिया पूर्व विधायक  व जोगबनी निवासी जाकिर अनवर खान लॉक डाउन रहने से अपने अनुज अनवर राज के साथ ही इफ्तार करते है । उन्होंने कहा रमजान में रोजेदारों के लिए सहरी एवं इफ्तार का बिशेष महत्व होता है।रमजान के महीने में रोजेदारों के लिए इफ्तार पार्टी का आयोजन होता आया है।लेकिन रमजान के पाक महीने में ऐसा पहली बार हुआ है कि कोरोना ने साथियोव, शुभचिंतकों को छोड़  घर में परिवार के साथ इफ्तार का आयोजन करना पड़ रहा है।सरकार कोरोना संक्रमण के रोकथाम के लिए लॉकडाउन किये हुए हैं।खासकर शारीरिक दूरी पर बिशेष बल दिया गया है। पूर्व विधायक जाकिर अनवर ने कहा कि कोरोना को लेकर बिशेष एहतियात के तौर पर दावतें इफ्तार के आयोजन से बच रहे हैं। बता दे कि पूर्व विधायक के यहाँ बर्ष सामुहिक रूप से इफ्तार पार्टी का आयोजन कर इफ्तार करते थे लेकिन इस बार शारीरिक दूरी के साथ अपने भाई अनवर राज के इफ्तार कर रहे हैं। पूर्व विधायक ने  कहा रोजा खोलने से पहले देश की सलामती एवं कोरोना जैसे महामारी से लोगों की सलामती मांगते है । कहा कोरोना जैसे महामारी में दीन एवं जरूरतमंद लोगों की सेवा सबसे बड़ा धर्म है इससे अल्लाह बरक्कत देगा।

आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading...
%d bloggers like this: