Mon. Aug 10th, 2020

राष्ट्रहित में काम नहीं करने वालों को खामोश कर दिया जाएगा : बिहारी बाबू

{हिमालिनी के लिए मधुरेश प्रियदर्शी की रिपोर्ट}

भोपाल — राष्ट्रहित में काम नहीं करने वालों को खामोश कर दिया जाएगा. उक्त बातें मध्यप्रदेश के किसानों के समर्थन में नरसिंहपुर पहुंचे भाजपा नेता और फ़िल्म स्टार शत्रुघ्न सिन्हा ने पत्रकार वार्ता में कही. बीते चार दिनों से समाहरणालय के बाहर जारी धरना के समापन के बाद भाजपा सांसद शत्रुघ्न सिन्हा और पूर्व केंद्रीय मंत्री यशवन्त सिन्हा ने नरसिंहपुर में एक प्रेस कांफ्रेंस को सम्बोधित किया, जिसमें उन्होंने चार दिन से कलेक्ट्रेट के बाहर जारी धरना समाप्त करने की वजह प्रशासन के सकारात्मक रुख को बताया.

मीडिया से बात करते हुए बिहारी बाबू ने यशवन्त सिन्हा के नेतृत्व में बनाये गए राष्ट्र मंच को किसान हित में काम करने के साथ देश के ज्वलंत मुद्दों पर काम करने वाला एक गैर राजनीतिक मंच बताया.

यह भी पढें   सुशांत केसः महाराष्ट्र सरकार ने SC में दायर किया जवाब, CBI जांच का विरोधl

शत्रुघ्न सिन्हा ने कहा कि इस मंच के जरिये देश के पैमाने पर ज्वलंत मुद्दों को लेकर काम किया जाएगा. उन्होंने यह भी कहा कि हमारा उद्देश्य किसी व्यक्ति विशेष को टारगेट करना नहीं है. हमारा उद्देश्य किसानों और युवाओं की आवाज को उठाना है.

राष्ट्र मंच के बारे में बोलते हुए उन्होंने कहा कि यह पॉलिटिकल मंच नहीं बल्कि पॉलिटिकल मूवमेंट है. इसके जरिए जनहित और देशहित के लिए काम किया जाएगा. उन्होंने कहा कि इस मंच का उद्देश्य चुनाव लड़ना नहीं है, बल्कि युवाओं को जगाना है.

यह भी पढें   ६१ प्रतिशत उद्योग बन्द, पुनः लकडाउन हुआ तो सारे उद्योग बन्द हो जायेंगेः राष्ट्र बैंक

यहां बता दें कि मध्यप्रदेश के नरसिंहपुर में एनटीपीसी प्रभावित किसानों के समर्थन में धरना दे रहे पूर्व केंद्रीय मंत्री यशवन्त सिन्हा ने कलेक्ट्रेट के बाहर चार दिनी धरने को खत्म कर दिया है और अब वे राष्ट्र मंच के बैनर तले देश स्तर पर काम करने जा रहे हैं.

बताया जा रहा है कि एनटीपीसी किसानों की जिन माँगो को लेकर यशवन्त सिन्हा धरने पर बैठे थे उन मांगों को पूरी करने की दिशा में प्रशासन का सकारात्मक रुख दिखा है जिसके बाद धरना खत्म किया गया है.

आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading...
%d bloggers like this: