Mon. Dec 16th, 2019

विश्व के हिन्दूओं का अन्तर्राष्ट्रीय गोष्ठी सम्पन्न,३ सुत्रीय काठमांडू घोषणा पत्र जारी

  • 655
    Shares

३१ जुलाई, काठमांडू । विश्व हिन्दु महासंघ और ग्लोबल हिन्दु फेडेरेसन के संयुक्त आयोजना में काठमांडू में दो दिवसीय अन्तर्राष्टीय गोष्ठी सम्पन्न हुआ है । विश्व हिन्दू महासंघ ने एक विज्ञप्ति जारी कर इस सम्बन्ध में जानकारी दिया है । जागो और उठो का मुख्य नारा सहित आयोजित गोष्ठी के लिये मित्र राष्ट्र भारत से भारतीय जनता पर्टी का नेता तथा सांसद डा. सुब्रमनियम स्वामी प्रमुख अतिथि के रुप में थे । और पूर्वसांसद तथा लेखक तरुण विजय विशेष अतिथि थे । कार्यक्रम में भारत, वेलायत, बंगलादेश, इन्डोनेसिया, मोरिसस्, मलेसिया, साउदी अरेयिबा का पाहुनाहरु अतिथि भी पधारे हुये थे । महासंघ की महासचिव अस्मिता भण्डारी द्वारा जारी विज्ञप्ति में उल्लेख है – ‘संसार का एक मात्र हिन्दु अधिराज्य का पहचान वाला देश नेपाल में दिन प्रतिदिन धर्मान्तरण बढ रहा है जो चुनौति को न्योता दे रहा है, उस विषय में चर्चाएं हुयी ।
कार्यक्रम में गोष्ठी द्वारा निकाले गये विज्ञप्ति के अनुसार नेपाल के साथ साथ अन्य देशों में मिसिनरियों द्वारा धर्मान्तरण बढ रहा है । इसके विरुद्ध में हम सभी को एकजुट होना चाहिये । कार्यक्रम में विभिन्न वक्ताओं ने बताया कि नेपाल के पशुपतिनाथ आकर लगता है जैसे अपने घर में हूं । परन्तु नेपाल धर्मनिरपेक्ष होने से हमलोग दुखी हैं ।

सुनिये तरुण विजयजी को

सम्मेलन ने ३ बुँदे काठमांडू घोषणपत्र भी जारी किया है । घोषणपत्र में मुख्य रुप से नेपाल में धर्मान्तरण को रोकना चाहिये, सम्पूर्ण संसार के हिन्दूओं को एक होकर अपने धर्म का संरक्षण करना चाहिये, देश में हिंदुत्व तथा पूर्वीय दर्शणके रचनाओं पर जोर देना चाहिये इत्यादि उल्लेख है । उसी प्रकार विश्व हिन्दु महासंघ और ग्लोबल हिन्दु फेडेरेसन के बीच साझा संयुक्त कार्यक्रम करने के लिये महासंघ का निमित्त अध्यक्ष प्रमोद कुमार चौरडिया और फेडेरेसन का अध्यक्ष दातु प्रदिप कुकरेजा बीच एकता प्रतिबद्धता पत्र में हस्ताक्षर भी किया गया है ।

Loading...

 
आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: