Thu. Jun 4th, 2020

नेपालगन्ज में जयश्रीराम शक्ति दल लाठी समिति द्वारा खेलाडी सम्मान

  • 9
    Shares

नेपालगन्ज(बाँके) पवन जायसवाल । बाँके जिला के नेपालगन्ज में जयश्रीराम शक्ति दल लाठी समिति नेपालगन्ज–८ बाँके के २८वीं वार्षिकोत्सव तथा खेलाडी सम्मान –२०७६ असोज २५ गते को नेपालगन्ज उद्योग वाणिज्य संघ की सभा हाल में सम्पन्न हुआ ।
वह कार्यक्रम के प्रमुख अतिथि नेपालगन्ज उप–महानगरपालिका के मेयर डा. धवल शमसेर राणा, बिशिष्ठ अतिथि राप्रपा नेपाल के केन्द्रीय सदस्य ओम प्रकाश आजाद, जिला प्रहरी कार्यालय बाँके के प्रहरी नायब उपरिक्षक शिव बहादुर सिंह, सशस्त्र प्रहरी बल के सशस्त्र प्रहरी निरीक्षक बिपिन दसरा, महिला समाजसेवी तथा नेपालगन्ज उद्योग वाणिज्य संघ के सदस्य रमारानी बैश्य, ८ नं. के वडाध्यक्ष सुरेन्द्र कुमार गुप्ता, ११ नं.के वडाध्यक्ष उज्वल सिंह राठौर मनोज कुमार श्रेष्ठ, लगायत लोगों ने पानस में बत्ती बालकर २८ वीं वार्षिकोत्सव तथा खेलाडी सम्मान कार्यक्रम का विधिवत रुप में उद्घाटन किया था ।
कार्यक्रम में प्रमुख अतिथि तथा मेयर डा. धवल शमशेर राणा ने अपनी मन्तब्यों में कहा मैं एक महीनें की वेतन रकम जयश्रीराम शक्ति दल लाठी समिति को देने के लिये घोषणा किया । वह कार्यक्रम में कहा अब ३ वर्ष मात्र बाँकी रहा कार्यकाल का हिन्दूराष्ट्र वासस कराने के लिये सभी लोगों की सहयोग चाहिये ।
इसी तरह बिशिष्ठ अतिथि जिला प्रहरी कार्यालय के प्रहरी नायब उपरीक्षक शिव बहादुर सिंह ने कहा टिकापुर से मैं जल्द ही नेपालगन्ज में आया हूँ । आप लोगों की मुझे अगर सहयोग मिली तो मैं टिकापुर जैसी ही नेपालगन्ज को बनाउँगा । बाँके जिला को गुण्डागर्दी करने वाले अब जल्द ही खतम हो जायेंगे । और दरुसरी बात ए है कि अब रात को १० बजे के बाद में कोई भी दुकाने नही खली आप लोगों को मिलेगी क्यों कि अधिक रात तक दुकाने खुल्ने से भी बाजार में चारी, डकैती लगायत की विभिन्न प्रकार की घटनाएँ होती रहती है इस लिये इस की रोकथाम भी जल्द करुंगा ।
ं ७ सौ ५३ मोटर साइकलें भी नियन्त्रण में लिया गया है जो नम्बर न होनेवाली और नम्बर स्प्रष्ट रुप में नही दिखना वह मोटरसाइकिलें नियन्त्रण में रही है बताया ।
इसी तरह प्रमु अतिथि बिशिष्ठ अतिथि, अतिथि, लगायत लोगों को और लाठी क्लबों को भी सम्मान किया गया था जैसे जय माँ ज्वाला शक्ति कला केन्द्र, अर्जुन श्क्ति केन्द्र, माँ बागेश्वरी लाठी क्लब, नेपाल स्पोर्ट क्लब, पूर्व खेलाडी डा.अजय बैश्य, जिला प्रहरी कार्यालय, सशस्त्र प्रहरी बल, अवधी साँस्कृतिक प्रतिष्ठान के अध्यक्ष बिष्णुलाल कुम्हार, कसौंधन बैश्य सेवा समाज के अध्यक्ष सुनिल कुमार बनिया, लखेर समाज के अध्यक्ष बीरेन्द्र गुप्ता, स्वर्णकार सेवा समिति के अध्यक्ष राम प्यारे वर्मा, रामलीला संचालक समिति नेपालगन्ज, दुर्गा पण्डाल समिति, मूर्तिकार तथा सजावट कन्हैयालाल, जिला ट्राफिक प्रहरी कार्यालय नेपालगन्ज, ओंमकार शान्ति सदभाव समिति बाँके के अध्यक्ष दिपक लोध लगायत लोगों को भी सम्मान किया गया था । साथ साथ इसी वर्ष खेलाडियों को मुल्याँकन करके ६ खेलाडी छनौट हुयें थे अनुज बैश्य, बिब्याँश बैश्य, प्रेम लखेर, हंशराज बंशकार, संघर्स गुप्ता, कन्हैया बैश्य, तथा सर्वोत्कृष्ठ खेलाडी बिष्णु बाबु कसौंधन को भी सम्मान किया गया था ।
इसी तरह के कार्यक्रम में लाठी प्रशिक्षण के सहायक प्रशिक्षक संजय गुप्ता, राजा गुप्ता, दिपेश गुप्ता, उमेश बैश्य, सन्तोष काँदू, दिपु गुप्ता, भोलू बैश्य लगायत लोगों को समिति के संस्थापक अध्यक्ष धमेन्द्र कुमार सोनी, प्रहरी नायब उपरीक्षक शिव बहादुर सिंह, सशस्त्र प्रहरी निरीक्षक बिपिन दसरा, ओंमकार परिवार शान्ति सदभाव समिति के अध्यक्ष दिपक लोध लगायत लालेगों ने सम्मान पत्र, मायाको चिनो सहित प्रदान करके सम्मान किया था ।
कार्यक्रम में समिति के सचिव नान्हू लखेर ने स्वागत मन्तब्य ब्यक्त करते हुये लाठी एक कला भी है इस को आगे बढाने के लिये सब भी लोगों की सहयोग जरुरी रही है औ सहयोग करने के लिये अनुरोध भी किया था ।
अगर सांचा जाये तो लाठी एक सहयोगी की भूमिका भी निभाती है, अत्याधुनिक हतियार की प्रयोग जब नही थी वो समय पर लाठी ही एक हथियार था, इस लिये लाठी की महिमा भी अपार है, लाठी अनुसाशन, अपनी रक्षा क लिये भी है, शारिरीक स्फुर्ति के लिये है, इस को खेल परम्परा खेल भी है, और इस को लाइसन्स भी नही पडता है विभिन्न वक्ताओं ने अपनी विचारों में ब्यक्त किया था ।
वह कार्यक्रम में विभिन्न खेल के खेलाडी, प्रशिक्षक, समिति को सहयोग करने वाले संघ संस्था लगायत को भी सम्मान किया गया था । समिति के अध्यक्ष राज कुमार बैश्य के अध्यक्षता सम्पन्न हुआ कार्यक्रम में प्रमुख प्रशिक्षक राज कुमार आर्य (राजू) गुरु, और समिति को प्रत्यक्ष तथा अप्रत्यक्ष रुप में सहयोग करनेवाले ब्यक्तित्वों को भी सम्मान किया गया था । प्रमु अतिथि , बिशिष्ठ अतिथि, अतिथि लगायत लोगों को खादा ओढाकर स्वागत किया गया था समिति के सदस्य रामजी पाठक ने कार्यक्रम की संचालन किया था ।

आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading...
%d bloggers like this: