Mon. Aug 10th, 2020

नेपाल के बाद चीन में साइबर क्राइम से जुडे 99 हजार संदिग्धों को हिरासत में लिया गया

बीजिंग, आइएएनएस।

चीन की पुलिस ने टेलीकॉम धोखाधड़ी के करीब एक लाख 18 हजार मामलों को सुलझाते हुए 99 हजार संदिग्धों को हिरासत में लिया है। यह कार्रवाई गत जून से चलाए गए ‘क्लाउड स्वार्ड’ नामक एक अभियान के तहत की गई है।

चीन की शिन्हुआ न्यूज एजेंसी ने सार्वजनिक सुरक्षा मंत्रालय के हवाले से बताया है कि गत वर्ष की तुलना में इस तरह के मामलों में 135.6 फीसद की बढ़ोतरी हुई है। इस अभियान के तहत धोखाधड़ी के नेटवर्क को ध्वस्त करने के लिए मंत्रालय ने कंबोडिया, फिलीपींस और लाओस के साथ समन्वय करते हुए इन देशों में पुलिस की कई टीमें भेजी थीं। इन देशों से कुल 2,553 संदिग्धों को पकड़कर चीन लाया गया। मंत्रालय के आपराधिक जांच ब्यूरो के निदेशक लियू झोंग्यी ने कहा, ‘आठ साल में भगोड़ों को पकड़कर लाने की यह सबसे बड़ी संख्या है।’

यह भी पढें   आज बलराम जयंती, आइए जानते हैं बलराम जयंती पर क्या करें,क्या न करें

वहीं, अभी हाल ही में नेपाल की पुलिस ने पर्यटक वीजा पर आए 122 चीनी नागरिकों को हिरासत में लिया था। इन लोगों पर साइबर अपराध को अंजाम देने के साथ बैंक की कैश मशीनों को हैक करने का भी संदेह था। राजधानी काठमांडू के पुलिस प्रमुख उत्तम सूबेदी ने सोमवार को कहा कि पकड़े गए सभी लोगों के पासपोर्ट और लैपटॉप जब्त कर लिए गए। नेपाल में संदिग्ध आपराधिक गतिविधियों के आरोप में पहली बार इतनी बड़ी संख्या में विदेशी नागरिकों को पकड़ा गया है।

यह भी पढें   प्रदेश २ में कोभिड १९ न्युनिकरण के लिए प्रत्येक जिला में निषेधाज्ञा जारी की जा रही

नेपाल पुलिस की कार्रवाई पर चीनी दूतावास ने अभी कोई टिप्पणी नहीं की है। नेपाल के वरिष्ठ पुलिस अधिकारी होबिंद्र बोगाटी ने हालांकि बताया कि चीनी दूतावास को इस कार्रवाई के बारे में पता था और उसने संदिग्धों को हिरासत में लेने का समर्थन किया है। चीन के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता गेंग शुआंग ने कहा, इस मामले में चीन और नेपाल की पुलिस संपर्क में है। चीन अपने पड़ोसी के साथ पूरी तरह सहयोग करने के लिए तैयार है।

आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading...

You may missed

%d bloggers like this: