Sun. May 31st, 2020

सर्वाेच्च का आदेश नकल कर जमीन बेचने के आरोप में ७ व्यक्ति गिरफ्तार

  • 99
    Shares
१९ फरवरी, वीरगञ्ज । सरकारी छाप दस्तखत नकल करने के आरोप में पुलिस ने बारा से ७ व्यक्ति को गिरफ्तार की है । दो अलग–अलग जमीन नकली दस्तखत कर बेचने के आरोप में उनलोगों को नियन्त्रण में लिया गया है ।
जिला प्रहरी कार्यालय बारा द्वारा मंगलवार पत्रकार सम्मेलन कर उन सातों व्यक्ति को सार्वजनिक किया गया है ।
वीरगञ्ज महानगरपालिका १८ का ४९ वर्षीय बलराम रौनियार, बहुदरमाई नगरपालिका ३ नगरदाह का ३५ वर्षीय सलिम मियाँ और बहुदरमाई २ बैरियाविर्ता का २४ वर्षीय सुनिल कुमार यादव को हिरासत में लिया गया है ।
बारा के जीतपुर सिमरा उपमहानगरपालिका २ स्थित ज्ञानेश्वर थपलिया (त्रिपाठी) के नाम की जमीन कित्ता नं ११३० का १० धुर जमीन अपने नाम से नकली पूर्जा बनाकर सुनिल ने माघ २० गते बेचा था ।
इस बात जानकारी प्राप्त होते ही थपलिया ने प्रहरी में अरजी लगाई थी । इसी के आधार पर सुनिल को हिरासत में लिया गया तथा इस नकली कार्य में सहयोग करने वाला बलराम और सलिम को भी उसी दिन गिरफ्तार किया गया ।
इसी प्रकार बारा के जीतपुर सिमरा उपमहानगरपालिका वडा नं २३ रामपुर टोकनी स्थित साविक कित्ता नं. ६१ (क) का हाल कित्ता नं. ३६२ का १ विगाहा १० कठ्ठा सार्वजनिक जमीन बेचने के आरेप में अन्य चार को हिरासत में लिया गया ।
महागढीमाई ८ का ३९ वर्षीय वोहाब अन्सारी, कलैया उपहानगरपालिका ६ का ५९ वर्षीय प्रल्हाद प्रसाद रेग्मी, कैलाली का गोदावरी नगरपालिका ११ का  चन्द्र बहादुर सिंह और दाङ घोराही उपमहानगरपालिका वडा नं. १८ का ५९ वर्षीय हस्त बहादुर नेपाली को गिरफ्तार किया गया है ।
प्रहरी के अनुसार नेपाल सरकार की विावादित जमीन सम्बन्ध में फिर से निर्णय करने के लिये मालपोत कार्यालय बारा के नाम में सवोच्च् अदालत ने २०७४ अग्रहण २८ गते आदेश जारी किया था । पर उक्त आदेश को तोड कर गलत मनशाय से उनलोगों ने प्रधुम्नराज पाण्डे के नाम में मोठ श्रेस्ता कायम कर देने की ब्योहोरा सर्वोच्च् अदालत के नकली लेटरप्याड बनाकर नकल किया था ।
प्रहरी ने जानकारी दिया कि उन सातों अभियुक्त के ऊपर अनुसन्धान जारी है ।

आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading...
%d bloggers like this: