Thu. Jul 9th, 2020

विदेशों में फसे नेपाली नागरिकों को स्वदेश लाने का निर्णय

  • 1.2K
    Shares

काठमांडू, २९ मई । कोरोना संक्रमण, रोकथाम तथा नियन्त्रण उच्चस्तरीय समिति ने निर्णय किया है कि विदेशों में फसे नेपाली नागरिकों को नेपाल लाने का निर्णय किया है । समिति ने अनुमान किया है कि लगभग ६ लाख नेपाली स्वदेश वापस होना चाहते है । इसके लिए आगामी हफ्ता से उन लोगों को नेपाल लाया जाएगा ।
विदेशों से नेपाल लागकर कम से कम उन लोगों को १५ दिन तक क्वारेन्टाइन में रखा जाएगा, इसके लिए सातों प्रदेश के लिए अलग–अलग मन्त्री को जिम्मेदारी दी गई है । क्वारेन्टाइन अवधि पूरा होने के बाद जिला तथा स्थानीय तह के साथ समन्वय करते हुए उन लोगों को संबंधित गांव में पहुँचाया जाएगा ।
समिति निर्णय अनुसार विदेश में रहे नेपाली नागरिकों को वापस करने के लिए प्रदेश नं. १ के खातिर भौतिक पूर्वाधार मन्त्री बसन्त नेम्वाङ को जिम्मेदारी दी गई है । इसीतरह प्रदेश नं. २ के खातिर श्रममन्त्री रामेश्वर राय यादव, बागमती प्रदेश के खातिर महिला बालबालिका मन्त्री पार्वत गुरुङ, गण्डकी प्रदेश के खातिर भूमि व्यवस्था मन्त्री पद्मा आर्याल, प्रदेश नं. ५ के खातिर ऊर्जा मन्त्री वर्षमान पुन, कर्णाली प्रदेश के खातिर शक्ति बस्नेत और सुदूरपश्चिम प्रदेश के खातिर उद्योग मन्त्री लेखराज भट्ट को संयोजन करने के लिए जिम्मेदारी दी गई है ।
समिति ने परराष्ट्र मन्त्रालय को आग्रह किया है कि विदेशों से नेपाल वापस होने के लिए इच्छुक नेपाली नागरिकों को की सूची तैयार किया जाए । इसके लिए मुख्य सचिव के नेतृत्व में अंतिम प्रस्ताव तैयार करनेका निर्णय भी हुआ है । स्मरणीय है, स्थानीय तथा प्रदेश सरकार की ओर से भी स्वदेश वापस होने के लिए इच्छुक नागरिकों की सूची तैयार हो रही है ।

आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading...
%d bloggers like this: