Tue. Jul 16th, 2024

आन्दोलन की तैयारीः १० लाख सहभागी, तीन दिनों का प्रदर्शन, प्रतिकार के लिए ५ हजार लडाकू, ५ ट्रक खाद्यान्न की व्यवस्था

दुर्गा प्रसाई, फाईल तस्वीर

काठमांडू, २१ नवम्बर । ‘राष्ट्र, राष्ट्रीयता, धर्म, संस्कृति और नागरिक बचाव’ अभियान अन्तर्गत दुर्गा प्रसाई तथा उनके टीम द्वारा घोषित आन्दोलन (प्रदर्शन) की तैयारी हो चुकी है । प्रसाई टीम से प्राप्त सूचना अनुसार मार्गशीर्ष ७ गते से काठमांडू में होनेवाला प्रदर्शन तीन दिन तक चलनेवाला है । इसके लिए टीम ने कोटेवश्वर में एक कार्यालय भी खडा किया है । लोकतान्त्रिक गणतन्त्र और धर्म निरपेक्षता संबंधी वर्तमान व्यवस्था खारीज संबंधी मांग के साथ यह प्रदर्शन होने जा रहा है ।
अभियान के लिए प्रसाई ने ७ सदस्यीय अध्यक्ष मण्डल निर्माण किया है । इसके अन्तर्गत २१ समिति बनाया गया है । बताया गया है कि मार्गशीर्ष ७ गते काठमांडू में १० लाख लोग इकठ्ठ होगें, जो देश भर से प्रदर्शन के लिए काठमांडू आए अनेवाले हैं । फेशबुक, म्यसेन्जर, भाइबर, ह्वाटशप जैसे सामाजिक संजालों की सहयोग से आन्दोलन परिचालन और व्यवस्थापन की तैयारी की है ।
प्राप्त सूचना अनुसार प्रदर्शन के दौरान अगर विरोधी समूह की ओर से अवरोध किया जाता है तो प्रतिकार के लिए ५ हजार की संख्या में लडाकू दस्ता तैयार की गई है । अन्दोलन के लिए काठमांडू आनेवाले को यहां की २५ पार्टी प्यालेस में रखने की व्यवस्था की गई है । बताया गया है कि उन लोगों की भोजन के लिए ५ ट्रक खाद्यान्न की जुगाड़ हुई है ।
प्रसाई टीम में सहभागियों का मानना है कि वि.सं. २०६२ मार्गशीर्ष ७ गते नयां दिल्ली में माओवादी और अन्य राजनीतिक दलों के बीच जो १२ सूत्रीय सहमति हुई थी, वही से नेपाली की दुर्दशा शुरु हुई है, इसीलिए उस दिन के विरोध स्वरुप मार्गशीर्ष ७ को चयन किया गया है ।
स्मरणीय है, प्रसाई समूह के विरुद्ध उसी दिन नेकपा एमाले संबंद्ध भातृ संगठन युवा संघ ने भी काठमांडू में प्रदर्शन कार्यक्रम रखा है । संभावित झडप को मध्यनजर करते हुए प्रशासन ने माइतीघर मण्डाल और बानेश्वर क्षेत्र में निषेधाज्ञा जारी की है । और दो समूह को दो अलग–अलग स्थान में कार्यक्रम रखने के लिए आग्रह किया है ।



About Author

आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading...
%d bloggers like this: