Fri. Oct 18th, 2019

मसूर दाल उपज की ओर महिला किसान ज्यादा आकर्षित

मनोज बनैता, सिरहा, २५ मार्च ।

शरीरके लिए बहुत ही पौष्टिक मानेजाने वाला मसूर दाल उत्पादन एवं प्रवर्द्धन के लिए सिरहा की महिला किसान सक्रिय दिख रही है । मसूर दाल की खेती के प्रति आकर्षित  संगिता देवि साह, सुनिता देवि साह, विन्देश्वरी देवि यादव और डम्बर नारायण यादव ने कहा कि सदियों से मधेस मे चले आ रहे मसूर खेती अब बैज्ञानिक ढंग से किया जा रहा है । धान के फसल के तुरन्त बाद मसूर की खेती यहाँ के किसान आय आर्जन मे बृद्धि हेतु  कर रहे है ।आई. एफ. ए. डी., आई सी ए आर डी ए और फरवार्ड नेपाल के समन्वय मे संचालित यह कृषि क्रान्ति किसानो के लिए बहुत फाईदेमन्द होने की आशा की जा रही है । यह कार्यक्रम सिरहा के लक्ष्मीपुर पतारी गाउँ पालिका लगायत जिलामे ११ समुह मे चल रहा है । फरवार्ड नेपाल के जिला संयोजक सुदर्शन विष्ट द्वारा दी गई जानकारी के मुताविक ३ साै १५ किसान ईस खेती के प्रति आकर्षित  हैं । सिरहा के लहान नगरपालिका २३ गढिया मे वडा स्तरीय दाल परीक्षण मुल्यांकन तथा अनुगमन कार्यक्रम किया गया । और लहान २३ के वडा अध्यक्ष कन्हैया प्रसाद गुप्ता की अध्यक्षता मे अनुगमन सम्पन्न हुवा है । कार्यक्रम मे अध्यक्ष गुप्ता ने कहा कि मसुर दाल उगाने मे हमे ज्यादा जोर देना चाहिए । ईस से हम आर्थिक सन्तुलन कायम कर सकेङ्गे । नेपालका मसुर बंगलादेश,भारत,भुटान लगायत के देश मे भी निर्यात होने की बात किसान लोटस सिड कम्पनि के प्रोप्रराईटर सागर चौधरी ने कहा  । ईस खेतीमे पानी, मलखाद , लगानी और मेहनत कम लगने के कारण भी किसान मसुर खेती प्रति आकर्षित है । यह दाल बजार भाव से २५ प्रतिशत अधिक करके किसानो को दिया जा रहा है ।

आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *