Wed. Nov 20th, 2019

प्रत्यक्ष निर्वाचित कार्यकारी प्रणाली आवश्यकः नेता श्रेष्ठ

काठमांडू, ३० मई । नेपाल कम्युनिष्ट पार्टी (नेकपा) के प्रवक्ता नारायणकाजी श्रेष्ठ को कहना है कि लोकतन्त्रिक गणतन्त्र को मजबूत बनाने के लिए नेपाल में चुनावी प्रणाली को परिवर्तन करना आवश्यक है । उनको कहना है कि देश में प्रत्यक्ष निर्वाचित कार्यकारी प्रणाली को विकास करना जरुरी है, जिससे लोकतान्त्रिक गणतन्त्र भी सुरक्षित हो सकता है ।
मानव अधिकार तथा शान्ति समाज द्वारा बुधबार काठमांडू में आयोजित कार्यक्रम को सम्बोधन करते हुए नेता श्रेष्ठ ने कहा– ‘संविधान में संशोधन कर देश में कार्यकारी प्रत्यक्ष निर्वाचित करने की व्यवस्था करनी चाहिए, साथ में पूर्ण समानुपातिक निर्वाचन प्रणाली होना चाहिए ।’ उन्हाेंंने कहा कि जो नेता पार्टी के प्रति निष्ठावान और योग्य हैं, वह पैसा के अभाव से चुनाव से भाग जाते हैं । उनका मानना है कि ऐसी अवस्था से योग्य व्यक्ति राजनीति की मूलधार में नहीं आ पाते हैं ।
नेता श्रेष्ठ को यह भी कहना है कि आज जो नागरिक समाज और बौद्धिक व्यक्तित्व के रुप में जाने जाते हैं, वह भी राजनीतिक पार्टीयों में विभक्त है । उन्होंने आगे कहा– ‘ऐसी अवस्था आना दुर्भाग्यपूर्ण है ।’

आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *