Thu. May 28th, 2020

सरकारी कार्यालय में भ्रष्टाचार व्याप्त है, सरकार को बदनाम होना पड़ रहा हैः प्रधानमन्त्री

काठमांडू, २० जून । प्रधानमन्त्री केपीशर्मा ओली ने कहा कि सरकारी कार्यालय में ही भ्रष्टाचार आज भी व्याप्त है, जिसके चलते सरकार को बदनाम होना पड़ रहा है । उन्होेंने मन्त्री और सचिवों को सरकारी कार्यालय में होनेवाला भ्रष्टाचार नियन्त्रण के लिए भी आग्र किया है । बुधबार सिंहदरबार स्थित राष्ट्रीय आयोग के कार्यकक्ष में सम्पन्न राष्ट्रीय विकास समस्या समाधान समिति की बैठक में प्रधानमन्त्री ओली ने यह बात कहा है । उन्होंने यह भी कहा है कि जनता की मन जितने के लिए मन्त्रियों को जनता की सेवा में समर्पित होना चाहिए ।
इसीतरह प्रधानमन्त्री ओली ने कहा है कि ठेकेदारों से धोका होने के कारण निर्धारित समय में में मेलम्ची का पानी काठमांडू में नहीं आ पाया है । उन्होंने यह भी दावा किया है कि आयोजना में हुई प्रगतिविवरण के संबंध में उनको भी धोका हुई थी अर्थात गलत सूचनदी गई थी ।
प्रधानमन्त्री ओली को कहना है कि इससे पहले जिस समय में मेलम्ची आयोजना सम्पन्न होने की दावा की गई थी, वह गलत था । उन्होंने आगे कहा– ‘मेलम्ची निर्माण में संलग्न ठेकेदारों से धोका हो गई, ठेकेदार लापत्ता होने से पूर्व जिस समय में उनकी म्याद समाप्त हो रही थी, उसके बारे में मुझ नहीं कहा गया । इस वक्त हम लोग जटिल परिस्थिति में हैं, लेकिन असहयोग की भावना चारों ओर से है ।’ प्रधानमन्त्री ओली ने दावा किया कि राजनीतिक पार्टी और सरकारी निकायों की ओर से ही उनको असहयोग हो रहा है ।

आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading...
%d bloggers like this: