Fri. Nov 22nd, 2019

मुझे लगा वो आंखों से मेरा रेप कर रहा है …

शुक्रवार को ईशा गुप्ता की फिल्म ‘वन डे: जस्टिस डिलीवर्ड’ रिलीज हुई है। फिल्म की रिलीज होने के बाद ईशा अपने दोस्तों के साथ ड्रिंक्स पर होटल गईं। यहां के अपने तर्जुबे को ईशा ने शनिवार को ट्विटर पर लिखा है।

 

ईशा ने ट्वी किया है, अगर देश में मेरे जैसी एक महिला ही अनसेफ महसूस करती है तो बाकियां लड़कियां क्या महसूस करती होंगी। यहां तक कि मेरे साथ दो सिक्यॉरिटी गार्ड थे लेकिन मैंने ऐसा महसूस किया जैसे आंखों में ही मेरा रेप किया गया हो। रोहित विग तुम एक सूअर हो।

ऐसे लोगों को तमीज सिखाने की जरूरत ईशा ने लिखा है, रोहित विग जैसे लोगों की वजह से ही महिलाएं खुद को कहीं भी सुरक्षित महसूस नहीं करती हैं। तुम अपनी आंखों के साथ मेरे आसपास मौजूद थे और तुम्हारा घूरना ही काफी था। उन्होंने लिखा, कुछ लोग बेहद असभ्य होते हैं, लगता है वे कभी नहीं सीखेंगे कि अनजान लोगों से कैसे पेश आना है। इन लोगों को तमीज सिखाए जाने की जरूरत है।

आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *