Sat. Aug 24th, 2019

वीर अस्पताल के वार्षिकोत्सव में नही गयें प्रधानमन्त्री ओली

२८ जुलाई, काठमांडू । प्रधानमन्त्री केपी शर्मा ओली ने देश के सबसे ज्येष्ठ अस्पताल वीर अस्पताल के १३० वें वाषिर्कोत्सव में सहभागी होने कार्यक्रम के अन्त समय में रद्द किया है ।
प्रधानमन्त्री ओली ने बताया कि हमें दांत में कुछ समस्या है मैं वीर अस्पताल के कार्यक्रम में नहीं आ पाऊंगा । परन्तु वह आज रविवार को नेपाल भारत सम्बन्ध सम्बन्धी एक सार्वजनिक कार्यक्रम और पार्टी के सचिवालय बैठक में भाग ले रहे हैं ।
वीर अस्पताल के कार्यक्रम में आने के लिये अन्तिम समय में रद्द किये जिससे अस्पताल की अनियमिता को निवेदन के साथ जोडकर देखा जा रहा है ।
वि.सं. १९४७ साल साउन १२ गते १५ शय्या से शुरु होकर आज वीर अस्पताल १३० वर्ष तक पहुंच गया है । फिर भी ३८० शय्या तक ही सीमित है ।
वि.सं. १९९० साल में नेपाल के प्रथम स्वास्थ्य शिक्षा देने वाला सिभिल मेडिकल स्कूल का शुरुवात इसी अस्पताल से हुआ था । जिसने ड्रेसर, कम्पाउण्डर और बाद में नर्सिङ शिक्षा शुरु किया था । ०४४ साल में बेलायत का एफआरसीएस, एमआरसीपीरएमआरसीओजी का दक्षिण एसिया का केन्द्र भी वीर अस्पताल को ही बनाया गया था । २०५१ साल में पीजीएमइसीसी मार्फत एमडी एमएस का अध्ययन भी यहां शुरु हुआ ।

आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *