Fri. Sep 20th, 2019

संविधान के विरोध में आदिवासी जनजाति आंदोलन के तैयारी में

११ सेपटेम्बर, काठमांडू । संविधान जारी होने वाला दिन आश्विन ३ गते को सरकार ने हर्षोल्लास के साथ मनाने की तैयारी कर रही है परन्तु आदिवासी जनजाति उस दिन को काला दिन ही मनायेंगे । साथ ही इस संविधान के विरोध में आन्दोलन का कार्यक्रम घोषणा करने के तैयारी में हैं ।
आदिवासी जनजाति, मधेसी, मुस्लिम, महिला, अपाङ्ग व्यक्ति तथा विभिन्न राजनीतिक दलों ने संविधान प्रति असहमति जनाते हुये बताये हैं कि आश्विन ३ गते को काला दिन ही मनायेंगे । आदिवासी संघ संगठनों ने जानकारी दिया कि इस संविधान के विरोध में बुधवार पत्रकार सममेलन कर आन्दोलन का कार्यक्रम सार्वजनिक किया जायेगा ।
आदिवासी जनजाति महासंघ का अध्यक्ष जगत बराम ने बताया कि आदिवासी जनजाति संयुक्त रुप में आश्विन ३ गते काला दिन के रुप में मनायेंगे ।
बराम ने कहा कि ‘विभेदकारी संविधान जारी हुआ दिन आश्विन ३ को आदिवासी जनजाति, मधेसी, दलित, मुस्लिम, महिला लगायत सम्पूर्ण बहिष्कृत–सीमान्तकृत जाति समुदाय के ऊपर धोखााधडी, षड्यन्त्र, जालसाजी और विभेद होने वाले दिन के रुप में स्पष्ट है । इसलिये इस दिन को काला दिन के रुप में ही लिया जायेगा ।

आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *