Mon. Feb 24th, 2020

भारतीय सीमा में घुसा पाकिस्तानी हेलिकॉप्टर, पाक प्रशासित कश्मीर के पीएम थे सवार

जम्मू कश्मीर के पुंछ ज़िले में नियंत्रण रेखा पर भारत और पाकिस्तान के बीच तनाव बढ़ने की ख़बर है. रविवार को दोपहर क़रीब सवा बारह बजे भारतीय सेना ने पाकिस्तान के एक हेलिकॉप्टर के नियंत्रण रेखा पार कर भारतीय हवाई क्षेत्र में आने की बात कही.

समाचार एजेंसी पीटीआई के अनुसार भारतीय सेना के प्रवक्ता लेफ्टिनेंट कर्नल देवेंद्र आनंद का कहना है कि पाकिस्तानी हेलिकॉप्टर ने 12 बजकर 10 मिनट पर हवाई क्षेत्र का उल्लंघन किया और नियंत्रण रेखा पार कर पुंछ के गुलपुर इलाक़े में अंदर आ गया था. उन्होंने कहा कि कुछ देर मंडराने के बाद ये लौट गया.

बीबीसी उर्दू के अनुसार सफ़ेद रंग के इस हेलिकॉप्टर पर पाकिस्तान प्रशासित कश्मीर के प्रधानमंत्री राजा फ़ारूक़ हैदर सवार थे. पाकिस्तानी न्यूज़ चैनल आज न्यूज़ का कहना है कि पाकिस्तानी मुस्लिम लीग नवाज़ के नेता राजा फ़ारूक़ हैदर एक शोक सभा में शामिल होने के लिए पाकिस्तान प्रशासित कश्मीर के तरोरी इलाक़े में उड़ान पर थे.

राजा हैदरइमेज कॉपीरइटGEO
Image captionपाकिस्तान प्रशासित कश्मीर के प्रधानमंत्री राजा हैदर

राजा राजा फ़ारूक़ हैदर ने एक बयान जारी कर कहा है कि उनका उनके हेलिकॉप्टर पर भारतीय सुरक्षा बलों ने उस वक़्त गोलियां चलाई जब हेलिकॉप्टर नियंत्रण रेखा के करीब उड़ रहा था.

उन्होंने कहा कि सिविलियन हेलिकॉप्टर को ज़ीरो लाइन तक जाने की इजाज़त होती है.

30 सेकंड का वीडियो

समाचार एजेंसी एनएनआई ने पाकिस्तानी हेलिकॉप्टर के भारतीय सीमा में घुसने का 30 सेकंड का वीडियो ट्वीट किया है. यह वाक़या तब सामने आया है जब दोनों पड़ोसियों के बीच संबंध काफ़ी ख़राब चल रहे हैं.

शनिवार को दोनों देशों के विदेश मंत्रियों ने संयुक्त राष्ट्र की महासभा के 73वें सत्र में शनिवार को ही एक दूसरे पर निशाना साधा था. भारतीय विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने पाकिस्तान पर आतंकवाद फैलाने का आरोप लगाया तो पाकिस्तानी विदेश मंत्री शाह महमूद क़ुरैशी ने कहा कि कश्मीर समस्या के समाधान के बिना शांति स्थापित नहीं की जा सकती.

इन सबके के बीच रविवार को भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा है कि शांति और संवाद के लिए प्रतिबद्ध हैं, लेकिन आत्मसम्मान और संप्रभुता से कोई समझौता नहीं किया जाएगा.

मोदी ने कहा कि शांति भंग करने की कोशिश की गई तो भारतीय सेना मुंहतोड़ जवाब देगी. प्रधानमंत्री ने 2016 में भारत की ‘सर्जिकल स्ट्राइक’ का हवाला देते हुए कहा कि आतंकवाद के ज़रिए छद्म युद्ध छेड़ने वालों को किसी भी सूरत में बख़्शा नहीं जाएगा.बीबीसी हिन्दी

Loading...

 
आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: