Fri. Feb 28th, 2020

डॉ प्रकाश आम्टे को मिला अढाई लाख का अंतरराष्ट्रीय पुरस्कार

डॉ प्रकाश आम्टे को मिला अढाई लाख का अंतरराष्ट्रीय पुरस्कार–पद्मश्री फूलबासन यादव को  एक लाख के राष्ट्रीय पुरस्कार से नवाज़ा गया

नारनौल। मनमुक्त ‘मानव’ मेमोरियल ट्रस्ट ने 15 दिसम्बर को दिवंगत आइपीएस अधिकारी डॉ मनमुक्त ‘मानव’ की स्मृति में आयोजित अंतरराष्ट्रीय पुरस्कार-वितरण समारोह में अपनी उपलब्धियों के इतिहास में एक अध्याय और जोड़ दिया। रेवाड़ी रोड स्थित सीएल फ़ार्म्स में आयोजित इस भव्य और अनूठे समारोह में गढ़चिरौली (महाराष्ट्र) से पधारे मैग्सेसे अवार्ड प्राप्त विश्व-विख्यात समाजसेवी पद्मश्री डॉ प्रकाश बाबा आम्टे को ढाई लाख का डॉ मनमुक्त ‘मानव’ अंतरराष्ट्रीय पुरस्कार तथा राजनांदगाँव (छत्तीसगढ़) की प्रसिद्ध समाजसेविका और महिला-सशक्तीकरण की रोल मॉडल पद्मश्री फूलबासन यादव को एक लाख का डॉ मनुमुक्त ‘मानव’ राष्ट्रीय पुरस्कार प्रदान किया गया। दोनों विभूतियों को राशि के अतिरिक्त शॉल, स्मृति-चिह्न और सम्मान-पत्र भेंट कर उक्त पुरस्कारों से नवाज़ा गया। वर्ष 2019 के ये पुरस्कार समाज-सेवा, आदिवासी-कल्याण तथा महिला-सशक्तीकरण के क्षेत्र में महत्वपूर्ण योगदान के दृष्टिगत उन्हें प्रदान किए गए। इन दोनों विभूतियों के अतिरिक्त गढ़चिरौली (महाराष्ट्र) की मैग्सेसे अवार्ड प्राप्त विख्यात समाज-सेविका डॉ मंदाकिनी आम्टे, गुरुग्राम से पधारे पूर्व राजदूत आज़ादसिंह तूर, हरियाणा कला परिषद, चंडीगढ़ के निदेशक अनिल कौशिक, महाकाली साहित्य संगम, कंचनपुर (नेपाल) के राष्ट्रीय अध्यक्ष हरीशप्रसाद जोशी तथा सुदूर पश्चिमी विश्वविद्यालय, महेंद्रनगर (नेपाल) में अंग्रेज़ी विभाग के प्रोफ़ेसर एवं अध्यक्ष डॉ अर्जुनसिंह नेगी को डॉ मनमुक्त ‘मानव’ शिखर-सम्मान से विभूषित किया गया।

पुरस्कार वितरण के उपरांत मुख्य अतिथि के रूप में बोलते हुए राज्यसभा सदस्य लेफ़्टिनेंट जनरल (सेनि) डॉ डीपी वत्स ने कहा कि डॉ मनमुक्त ‘मानव’ जैसे परम तेजस्वी और अत्यंत मेधावी आइपीएस अधिकारी का मात्र 30 वर्ष की उम्र में बिछुड़ जाना एक बहुत बड़ी त्रासदी ही नहीं, देश और समाज के लिए अपूरणीय क्षति भी है। उन्होंने डॉ मनमुक्त के परिजनों द्वारा उनकी स्मृति में किए जा रहे प्रयासों की प्रशंसा करते हुए इसे दिवंगत आत्मा के प्रति सच्ची श्रद्धांजलि बताया। विशिष्ट अतिथि पूर्व प्रशासनिक अधिकारी एवं नांगल चौधरी के विधायक अभय सिंह यादव ने डॉ मनमुक्त ‘मानव’ को भावभीनी श्रद्धांजलि प्रकट करते हुए कहा कि वह मरकर भी अमर हैं तथा ट्रस्ट द्वारा किए जा रहे प्रयासों से उनकी कीर्ति देश-विदेश में फैलती जा रही है। हरियाणा एग्रो इंडस्ट्रीज के चेयरमैन गोविंद भारद्वाज ने डॉ मनमुक्त ‘मानव’ को युवा शक्ति का प्रतीक और प्रेरणा-स्रोत बताते हुए अपने अध्यक्षीय वक्तव्य में कहा कि उनकी स्मृति में नारनौल जैसे पिछड़े और छोटे शहर से इतने बड़े राष्ट्रीय-अंतरराष्ट्रीय पुरस्कारों का प्रारम्भ होना तथा देश-विदेश की महान विभूतियों का यहाँ आना बड़े गौरव की बात है।

डॉ जितेंद्र भारद्वाज द्वारा प्रस्तुत प्रार्थना-गीत के बाद डॉ पंकज गौड़ के कुशल संचालन में सम्पन्न हुए इस महत्वपूर्ण समारोह में सीएल शिक्षा-संस्थाओं के प्रबंध-निदेशक डॉ अमित गुप्ता ने बतौर स्वागताध्यक्ष सभी अतिथियों का स्वागत किया, वहीं चीफ़ ट्रस्टी डॉ रामनिवास ‘मानव’ ने ट्रस्ट की गतिविधियों का विवरण तथा बीसी यूनिवर्सिटी, बॉस्टन (अमेरिका) में अर्थशास्त्र की प्रोफ़ेसर तथा विश्वबैंक की पूर्व सलाहकार डॉ एस अनुकृति ने विशिष्ट अतिथियों का परिचय प्रस्तुत किया। तत्पश्चात् विश्वबैंक के सलाहकार और हॉर्वर्ड यूनिवर्सिटी, बॉस्टन (अमेरिका) के टीचिंग फ़ेलो सिद्धार्थ रामलिंगम, सिंघानिया यूनिवर्सिटी, पचेरी बड़ी (राज) के उपकुलपति डॉ उमाशंकर यादव, अटेली के विधायक सीताराम यादव, और भारतीय जनता पार्टी के ज़िला अध्यक्ष शिवकुमार मेहता ने डॉ मनमुक्त ‘मानव’ को भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित की, वहीं हलवासिया विद्या विहार के प्राचार्य डॉ रामाकान्त शर्मा और अलवर के प्रमुख कवि संजय पाठक ने कविताओं के माध्यम से अपने उद्गार व्यक्त किए।

ये रहे उपस्थित: अत्यंत स्तरीय और स्मरणीय इस समारोह में राजनांदगांव छत्तीसगढ़ के समाजसेवी शिवकुमार देवगन, दादरी के वरिष्ठ साहित्यकार डॉ अशोक कुमार मंगलेश, अहमदाबाद के समाजसेवी सुबेसिंह यादव, हिसार के डॉक्टर यशवीर दहिया, डॉ राजेश शर्मा एवं अशोक वशिष्ठ, दिल्ली के श्रुति और परिमल सदाफल, बाबा खेतानाथ महिला महाविद्यालय, भीटेड़ा (राजस्थान) के प्राचार्य डॉ सुमेरसिंह यादव, हिसार तथा अंबाला मंडल के हायड्रोलोजिस्ट राकेश निम्होरिया, ज़िला उपभोक्ता अदालत के अध्यक्ष अशोक गर्ग, ज़िला बाल कल्याण अधिकारी विपिन शर्मा, ज़िला बाल संरक्षण अधिकारी संदीप सिंह, नेहरु युवा केन्द्र के ज़िला युवा समन्वयक महेंद्र नायक और ज़िला युवा संसाधन समन्वयक अनिल डोगरा, ज़िला समाज  कल्याण अधिकारी अमित शर्मा, पार्षद तथा निगरानी समिति के चेयरमेन महेंद्र गौड़, भाजपा महिला मोर्चा की ज़िला अध्यक्ष सरला यादव, भाजपा  के ज़िला प्रेस प्रवक्ता नरेंद्र झिमरिया, भाजपा तकनीकी प्रकोष्ठ के ज़िला संयोजक डॉ सुशील त्रिमूर्ति, पीएनबी  के प्रबंधक बी एस यादव तथा इंद्र सिंह, हरियाणा व्यापार मंडल के ज़िला अध्यक्ष बजरंगलाल अग्रवाल, एबीवीपी के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष प्रमोद शास्त्री, नारनौल बार एसोसिएशन के पूर्व प्रधान मनीष वशिष्ठ, पूर्व ज़िला शिक्षा अधिकारी पुष्करमल वर्मा, पूर्व उप निदेशक डॉ रामोतार यादव, हूडा के पूर्व एसडीओ अरुण कौशिक, परमानन्द दीवान, गजानंद कौशिक, किशनलाल शर्मा, दुलीचंद शर्मा, धर्मवीर विद्यार्थी, महेन्द्रसिंह यादव, ट्रस्टी डॉ कांता भारती, श्रीमती कमलेश सैनी, सनातन धर्म सभा के अध्यक्ष धर्मचंद छाबड़ा,  एडवोकेट कृष्ण कुमार, डॉ मनोहरलाल शर्मा, प्रिन्सिपल मुकेश कुमार, देवेंद्र कुमार, आदि गणमान्य नागरिकों की उपस्थिति उल्लेखनीय रही।

 

Loading...

 
आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: