Tue. Jul 16th, 2024

मधेश मुद्दा संसोधन बिना कोई भी चुनाव मधेश को मान्य नही, स्वबियु चुनाव बहिस्कार,

rr-campus



मुकेश झा , जनकपुर,२३ फरवरी | मधेश मुद्दा सम्बोधन और संबिधान सांसोधन बिना मधेशी जनताको अपमानित करते हुए जवरन स्थानीय निर्बाचन बैशाख ३१ करने की घोषणा हुई है परन्तु अभी कोई भी निर्बाचन मधेशमें सम्भव नही है तो भी राज्य सत्ता,पुलिस प्रशासन और सेना के दम पर निर्बाचन प्रकिया अगर आगे बढ़ाये तो देश द्वन्द, दुर्घटना और आतंरिक गृह युद्ध में फसना निश्चित है | तसर्थ मधेश मुद्दा सम्बोधन और संसोधन किये बगैर स्वबियु निर्बाचन और स्थानीय निर्बाचन स्थगित करने हेतु सम्बंधित पक्ष को चेताबनी स्वरुप मधेस की जनता ने एक दिन का बन्द किया। अगर चुनाव जवर्दस्ती की गई तो किसी भी प्रकार की क्षति या गम्भीर दुर्घटना हुई तो उसका सम्पूर्ण जिम्मेबारी नेपाल सरकार और तीन दाल को लेना होगा। मधेश मुद्दा संसोधन बिना एक भी चुनाव मधेश को अमान्य है और स्वबियु निर्बाचन तत्काल स्थगित करने के लिए आग्रह और मधेश का सम्पूर्ण त्रिबी आंगिक कैम्पस एवम् संस्कृत कैम्पस में तालाबन्दी भी की गयी है।

जनकपुर राराब कैम्पस के प्रसाशन कक्षमें तालाबन्दी

जनक हजारी संस्कृत कैम्पस में तालाबन्दी मटिहानी संस्कृत कैम्पस में तालाबन्दी महेंद्रमोरंग कैम्पस बिराटनगर में तालाबन्दी ठाकुर राम कैम्पस बिरगंज में तालाबन्दी भैरहवा कैम्पस रूपन्देही में तालाबन्दी सिरहा कैम्पस में तालाबन्दी सर्लाही कैम्पस में तालाबन्दी रौतहट कैम्पस में तालाबन्दी महेन्द्र बिन्देस्वरी राजविराज में तालाबन्दी सुनसरी कैम्पस इनरुवा में तालाबन्दी नवलपरासी कैम्पस में तालाबन्दी कंचनपुर बहुमुखी कैम्पस में तालाबन्दी काठमांडु के नेशनल इंजीनिरिंग कैम्पस में तालाबन्दी साथ ही मधेश के सम्पूर्ण कैम्पस में स्वबियु प्रकिया यही रोक कर मधेस मुद्दा को सम्बोधन के साथ परिमार्जन सहित संविधान संसोधन पर ध्यान देना नेपाल सरकार की प्रथम दाइत्व है।



यह भी पढें   प्रधानमंत्री ओली पूर्व राष्ट्रपति विद्या भंडारी से मिलने भंडारी निवास में

About Author

आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading...
%d bloggers like this: