Wed. Oct 16th, 2019

साझा पार्टी एक वैकल्पिक शक्ति के रूप में आगे बढ़ रही हैः रमेश महर्जन

पहले चरण के निर्वाचन होने से लगभग दो महीने पहले साझा पार्टी का गठन हुआ था, जो आज राजनीति में अपने को वैकल्पिक शक्ति के रूप में परिचित कराना चाहती है । बीबीसी नेपाली सेवा से आबद्ध पूर्व पत्रकार रवीन्द्र मिश्र के नेतृत्व में गठित साझा पार्टी फिलहाल निर्वाचन

Ramesh Maharjan sajha party
रमेश महर्जन

आयोग में दर्ता नहीं है । फिर भी साझा पार्टी ने अपनी तरफ से कुछ स्वतन्त्र रूप से उम्मीदवारी दी थी । इन्ही में से एक है– ललितपुर महानगरपालिका के मेयर पद के प्रत्याशी– रमेश महर्जन । महर्जन ने चुनाव तो नहीं जीत पाये, लेकिन सम्मानजनक मत प्राप्त किया । १३ हजार से ज्यादा मत प्राप्त कर तीसरे स्थान हासिल करने वालें महर्जन के साथ निर्वाचन और वैकल्पिक राजनीतिक शक्ति के सम्बन्ध में लिलानाथ गौतम ने बातचीत की । प्रस्तुत है, बातचीत का सम्पादित अंश–
० निर्वाचन में आपने जो मत प्राप्त किया, उसे आप कैसे मूल्यांकन करते हैं ?
– हमारी प्रस्तावित साझा पार्टी वैधानिक रूप से गठन भी नहीं हुई है । लेकिन निर्वाचन में जनता ने जो मत दिया है, यह उन लोगों का हमारे प्रति विश्वास का फल है । इसे हम उच्च सम्मान करते हैं ।
० मत परिणाम देखने से ऐसा लगता कि निर्णायक मत तो पुरानी पार्टियों को ही मिला है ?
– अपने को नयी वैकल्पिक शक्ति दावा करने वाले अन्य पार्टियों के बारे मैं कुछ नहीं कह सकता । लेकिन साझा पार्टी तो औपचारिक रूप में गठन भी नहीं हुई है, निर्वाचन आयोग में दर्ता भी नहीं है । ऐसी अवस्था में काठमांडू और ललितपुर में जो मत साझा पार्टी और उम्मीदवार को मिला, वह सम्मान योग्य है । ललितपुर महानगरवासी ने मुझे १३ हजार से ज्यादा मत दिया है, यह पार्टी प्रति का विश्वास औरयक्तिगत तौर पर जो सामाजिक कार्य मैंने किया था, इसी का फल है । हमारे लिए यही मत आगामी चुनाव में निर्णायक सिद्ध हो सकता है ।
० विजय होने के लिए जितना मत आपको चाहिए था, वह क्यों प्राप्त नहीं हो सका ?
– पहली बात, चुनाव प्रचार–प्रसार करने का समय ही नहीं मिला । सिर्फ ५–६ दिन था– चुनाव प्रचार करने के लिए । इसीलिए ललितपुर महानगरपालिका में १०–१२ ऐसे वार्डÞ हंै, जहां मैं चुनावी एजेण्डा लेकर पहुंच भी नहीं पाया । इसीलिए मैं विजय हासिल नहीं कर सका । दूसरी बात, दल के रूप में हमें चुनाव चिन्ह भी नहीं मिला था ।
० अपने को नयी वैकल्पिक शक्ति दावी करने वालों में से साझा पार्टी के अतिरिक्त नयां शक्ति पार्टी और विवेकशील नेपाली भी हैं । नयी शक्ति दावा करने वाले तीनों समूह विभाजित होकर चुनावी मैदान में उतर आए थे । क्या पराजित होने के पीछे यह एक कारण नहीं हो सकता ?
– हां, यह बात हम सभी ने महसूस की हैं । वैकल्पिक राजनीति के लिए बहस करने वाले लोग विभाजित होकर जनता में जाने से विरोधाभाष उत्पन्न होना स्वाभाविक है । लेकिन विश्वास योग्य वैकल्पिक शक्ति तो प्रस्तावित साझा पार्टी ही है, निर्वाचन और प्राप्त मत परिणाम ने यही साबित किया है ।
० क्या आप सोचते हैं कि वैकल्पिक राजनीति करने वालों के बीच एकता हो ?
– समान विचार और धारणा लेकर चलनेवालें सभी समूह एकजुट होना चाहिए । हमारा विजन देश में सुशासन की स्थापना, पारदर्शिता और जनता को आर्थिक रूप में सम्पन्न बनाना रहा है । यह काम अब पुरानी पार्टी की ओर से सम्भव ही नहीं दिखाई देता है । इसीलिए जनता निराश हो रही है । लेकिन वैकल्पिक राजनीतिक शक्ति की जो बहस हो रही है, इससे जनता के बीच पुनः आशा और उम्मीद की विजारोपण हो रही है । ऐसी अवस्था में वैकल्पिक राजनीतिक धार एकीकृत हो, तो सोने में सुहागा हो जाएगा ।
० आगामी दिनों में साझा पार्टी कैसे आगे बढ़ सकती है ?
– अभी हम लोग विगत के चुनाव के बारे में समीक्षा कर रहे हैं । अब भी दूसरे चरण के चुनाव बाकी हैै । तत्पश्चात् प्रान्तीय और केन्द्रीय चुनाव होगा । विगत के चुनाव के परिणाम को विश्लेषण और पार्टी के निर्देशक सिद्धान्त के आधार पर ही हम लोग आगे बढ़ेंगे ।
० अन्त में, आप हिमालिनी के जरिये कुछ कहना चाहेंगे ?
– पहली बात, देश और जनता एक वैकल्पिक राजनीतिक शक्ति की तलाश कर रही है । हो सकता है– आप भी इसी सत्य को महसूस कर मेरे साथ बातचीत कर रहे हैं । अगर ऐसा है तो हम आपके प्रति आभारी हैं । हां, अब भी हम लोग पुरानी राजनीतिक शक्ति को ही निर्णायक स्थान में रखते हैं, तो युवा वर्ग की जो चाहत है कि उन्हे आर्थिक विकास और सुशासन मिले, वह सम्भव नहीं है । इसलिए अब वैकल्पिक राजनीतिक शक्ति निर्माण करना ही है, तो उसके द्वारा प्रस्तावित मार्गदर्शन को जनता के बीच में लाना होगा । इसके लिए आप जैसे मीडियाकर्मी मित्रों का सहयोग भी अपेक्षित है । राजनीति में विधि के शासन, पारदर्शीता, ईमानदारी और कुछ कुसल काम करने की दृढ़ता होना चाहिए । हम इसी मान्यता के साथ आगे बढ़ रहे हैं । हां, हमारी पार्टी नयी है । अपनी कमी कमजोरियों को सुधार करते हम आगे बढ़ रहे है । इसके लिए हम शुभचिन्तकों से सकारात्मक सलाह और सुझाव के लिए आशावादी हैं ।

आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *