Tue. Jan 28th, 2020

गर्मियों में लू और डिहाइड्रेशन से बचने के लिए खाने में शामिल करें ये 9 चीजें

गर्मियों के मौसम में हीट स्ट्रोक, डिहाइड्रेशन जैसी समस्याएं बहुत ही आम होती हैं। इनके अलावा थकान, भूख न लगना, वॉमिटिंग और फूड पॉइजनिंग जैसी समस्याएं भी इसी मौसम की देन हैं। जिससे बचने के लिए सबसे ज्यादा जरूरी है आपकी डाइट का सही और फ्रेश होना। मसालेदार भोजन की जगह लो कैलोरी और लाइट फूड को  शामिल करें। हेल्थ एक्सप‌र्ट्स का कहना है कि इस मौसम में बहुत से लो कैलोरी फ्रूट्स मिलते हैं जिनमें फाइबर, कैल्शियम, पोटैशियम, जिंक, सेलेनियम, मैग्नीशियम आदि पोषक तत्व एवं विभिन्न प्रकार के विटामिंस की पर्याप्त मात्रा होती है। डाइट में ज्यादा से ज्यादा लिक्विड्स लें। जो हमारे शरीर को फ्रेश रखने के साथ ही डिहाइड्रेशन से भी बचाती हैं।

दही

दही कुदरती रूप से शीतलता प्रदान करने वाला पदार्थ है। दही, छाछ, लस्सी, रायता.. किसी भी रूप में इसका सेवन जरूरी है। सब्जियों के साथ यह एक परफेक्ट मील का काम करता है तो फलों के साथ बेहतरीन डेजर्ट बन जाता है। इसलिए लो-फैट दही का रोज सेवन करें। यह शरीर को ठंडक पहुंचाएगा और त्वचा को देगा दाग-धब्बों से मुक्ति।

नारियल पानी

नारियल पानी में लाइट शुगर, इलेक्ट्रोलाइट्स और जरूरी मिनरल्स होते हैं, जो शरीर को हाइड्रेट रखते हैं। यह पोटेशियम का अच्छा स्रोत है। यह स्वाद को बरकरार रखने और गर्मी में कूल रखने के लिए असरदार पदार्थ है। वेट लॉस प्रक्रिया में भी यह बहुत कारगर है।

पुदीना

गर्मी की जान है यह हर्ब। पुदीने व कच्चे आम की चटनी बनाएं या इससे रायते को सजाएं। यह स्वाद और सेहत दोनों में जायकेदार साबित होगा।

हरी सब्जियां एवं फल

गर्मी में हरी सब्जियों का सेवन अधिकाधिक करना चाहिए, क्योंकि इनमें भरपूर मात्रा में पानी होता है। इन्हें ओवरकुक करने से बचें ताकि इनमें मौजूद पानी नष्ट न हो। इस मौसम में लौकी, कद्दू, तरोई, भिंडी, ककड़ी, खीरा, टमाटर, खरबूजा, तरबूज जैसी तमाम सब्जियों व फलों का सेवन अवश्य करना चाहिए । इससे स्वस्थ रहने में मदद मिलेगी।

प्याज

प्याज काटने पर भले ही खूब आंसू आएं, मगर इसमें कुदरती रूप से कूलिंग तत्व मौजूद होते हैं। इसे सलाद में खाएं या फिर करी, रायता, डिप्स और चटनी के तौर पर प्रयोग करें या नाश्ते में प्याज का पराठा खाएं। यह शरीर को फायदा ही पहुंचाएगा। इसमें मौजूद पोषक तत्व हमारे शरीर को लू से बचाने की क्षमता रखते हैं।

ठंडा-ठंडा सूप

अपनी डाइट में ताजी सब्जियों का ठंडा सूप जरूर शामिल करें। इससे जरूरी पोषक तत्व मिलते हैं। विटामिंस और मिनरल्स का यह खजाना शरीर को पर्याप्त ऊर्जा भी देता है।

क्विनोआ 

गर्मी में लाइट डाइट को प्राथमिकता बनाना चाहते हैं तो क्विनोआ बेहतरीन विकल्प है। इसमें भरपूर फाइबर होता है। इसके अलावा प्रोटीन व अनिवार्य फैट्स भी इसमें शामिल हैं। थोडा सा क्विनोआ सलाद, रोस्टेड वेजीटेबल में मिक्स करें या फिर इसे ब्रेकफास्ट का हिस्सा बनाएं।

नींबू पानी और जूस

नींबू पानी से बेहतर जूस कोई नहीं। हालांकि गर्मियों में संतरे या मौसमी जैसे फलों या सब्जियों के जूस भी ले सकती हैं। गर्मी के मौसम में शरीर को पानी की ज्यादा जरूरत होती है। इसलिए पेय पदार्थों का अधिक सेवन करना चाहिए ताकि शरीर को पर्याप्त पानी मिले और आपको मिले गर्मी की उमस भरी दोपहरी में चुस्ती-फुर्ती।

आम

फलों का राजा आम गर्मी का सबसे पसंदीदा फल है। हीट स्ट्रोक से बचना है तो मैंगो शेक और पना बनाएं, जो एंटीऑक्सीडेंट्स का भी अच्छा स्रोत है। इसमें विटामिन ए की भरपूर मात्रा होती है। हालांकि डायबिटीज या कुछ अन्य बीमारियों में आम से नुकसान पहुंच सकता है।

इनसे बचना है जरूरी

गर्मी में डाइट ऐसी हो जिसे पचाने में आंतों को ज्यादा मेहनत न करनी पडे़। इस मौसम में भारी खाने से बचें, क्योंकि यह सुस्ती पैदा करता है। पूड़ी, परांठा, जंक फूड जैसे पिज्जा, बर्गर को इस मौसम में टाटा-बाय कहना ही अच्छा है, क्योंकि इनकी तासीर गर्म है। इसके अलावा आइसक्रीम्स, कोल्ड ड्रिंक्स को नजरअंदाज करना अच्छा है। बहुत ठंडी चीज़ें शरीर को नुकसान पहुंचाती हैं, इसलिए इनसे बचें।

Loading...

 
आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: