Tue. Oct 15th, 2019

पाकिस्तान : खतरे में ‘प्रेस की आजादी’ टीवी न्यूज एंकर की गोली मारकर हत्या

पाकिस्तान में ‘प्रेस की आजादी’ पर हमले की खूब चर्चा हो रही है। इस बीच हुई एक घटना ने सबको चौंका दिया है। पाकिस्तान में एक न्यूज एंकर की गोली मारकर हत्या कर दी गई। कराची के लोकल कैफे खयाबान-ए-बुखारी के नजदीक मंगलावर शाम पत्रकार मुरीद अब्बास की हत्या कर दी गई। हत्या मामूली कहासुनी के बाद हुई। हत्या के बाद पुलिस जब आरोपी को गिरफ्तार करने गई तो उसने खुद को भी गोली मार ली। आरोपी की हालत गंभीर है। उसका इलाज चल रहा है। पत्रकार का नाम मुरीद अब्बास है जो ‘बोल न्यूज’ में कार्यरत था। हमलावर की पहचान आतिफ जमां के रूप में हुई है। जियो न्यूज के मुताबिक जमां ने एक सफेद कार के अंदर से गोली मारी। साउथ डीआईजी शर्जिल खराल के मुताबिक, अब्बास के एक दोस्त ने बताया कि हमलावर के साथ पैसे रुपए को लेकर कुछ अनबन थी। इसी के चलते पत्रकार की हत्या कर दी गई।

खतरे में ‘प्रेस की आजादी’
इस बीच पाकिस्तान पीपल्स पार्टी (पीपीपी) के अध्यक्ष बिलावल भुट्टो ने मंगलवार को आरोप लगाया कि देश में प्रेस की आजादी खतरे में है और इस कारण उन्होंने इमरान खान सरकार को ‘फासीवादी'(Fascist) बताया है पीपीपी अध्यक्ष बिलावल भुट्टो ने आरोप लगाया, ‘दक्षिण एशियाई देशों में मीडिया ब्लैकआउट की हालिया घटनाओं को देखकर ‘फासीवादी’ इमरान खान पाकिस्तान में प्रेस की आजादी पर लगातार हमले कर रही है।’

बिलावल भुट्टो ने कहा, ‘मैंने कल रात सुना कि तीन टीवी न्यूज चैनल- चैनल 24, एबटैक और कैपिटल टीवी को बिना किसी कारण या प्रक्रिया के बिना ऑफ-एयर कर दिया है। यह प्रेस की स्वतंत्रता पर एक बिल्कुल अप्रिय और अपमानजनक हमला है।’

उन्होंने आगे कहा, ‘ मीडिया और पत्रकारों पर दबाव डाला जा रहा है। पत्रकारों को अपनी व्यक्तिगत आजादी से समझौता करने के लिए मजबूर किया जा रहा है। पत्रकार अपने विचारों को स्वतंत्र रूप से अखबारों में व्यक्त नहीं कर सकते हैं और वे अपने ट्विटर अकाउंट पर ट्वीट तक नहीं कर सकते हैं। यदि वे (ऐसा करने की हिम्मत) करते हैं, तो उनके ट्विटर बंद कर दिए जा रहे हैं।’

बिलावल भुट्टो की यह टिप्पणी तीन दिन पहले पाकिस्तान के कई शहरों में तीन पाकिस्तानी समाचार चैनलों के बंद होने के बाद आई है।पीएमएल-एन नेता मरयम नवाज ने इस घटना को ‘अविश्वसनीय फासीवाद’ और ‘शर्मनाक’ बताया है। पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ की बेटी मरियम ने ट्वीट किया था, ‘अविश्वसनीय फासीवाद। शर्म करो।

बता दें, पाकिस्तान इलेक्ट्रॉनिक मीडिया रेगुलेटरी अथॉरिटी (पीईएमआरए) के आदेश पर तीन समाचार चैनलों – चैनल -24, एब टक और कैपिटल टीवी को मरियम का लाइव भाषण दिखाने के लिए बंद कर दिया गया है।

जरदारी का इंटरव्यू रोका गया
इससे पहले 1 जुलाई को पाकिस्तान के वरिष्ठ पत्रकार हामिद मीर द्वारा जियो न्यूज चैनल पर प्रसारित पाकिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति आसिफ अली जरदारी के एक साक्षात्कार को प्रसारण के कुछ ही मिनटों के भीतर रोक दिया गया।यह घटना एक मिलियन डॉलर के धन शोधन मामले में जरदारी की गिरफ्तारी की पृष्ठभूमि में हुई थी।

दैनिक जागरण से

आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *