Sun. Dec 8th, 2019

विराटनगर के उद्योग–व्यवसायी कुलमान घिसिङ के विरुद्ध !

  • 119
    Shares

विराटनगर, २० अगस्त । नेपाल विद्युत प्राधिकरण के कार्यकारी प्रमुख कुलमान घिसिङ आम जनता के नजर में ‘हिरो’ हैं । मानना है कि नेपाल में वर्षों से जारी लोडसेडिङ अंत करने के लिए उन्होंने महत्वपूर्ण भूमिका निर्वाह किया । लेकिन विराटनगर के उद्योग–व्यवसायी उनके विरुद्ध आक्रोशित होते जा रहे हैं । कारण है, विराटनगर में सहज विद्यतु आपुर्ति ना होना ।
हां, यहां के उद्योग–व्यवसायी को कहना है कि यहां सहज विद्युत आपुर्ति नहीं हो रहा है, जिसके चलते उद्योग संचालन में बाधा उत्पन्न हो रही है । सोमबार विराटनगर में आयोजित एक कार्यक्रम में बोलनेवाले अधिकांश व्यवसायियों की कथन यही था । उन लोगाेंं का मानना है कि विद्युत तो आती है, लेकिन कब जाती है, पता नहीं चलता, जिसके चलते काम में अवरोध हो रहा है ।
यहां के व्यवसायियों ने प्रदेश नं. १ के मुख्यमन्त्री शेरधन राई से मिलकर विद्युत समस्या समाधान के लिए भी कहा है । मोरङ व्यापार संघ के पूर्व अध्यक्ष पवन सारडा ने कहा– ‘विद्युत प्राधिकरण का काम ७ अरब मुनाफा आर्जन करना ही नहीं है, सरकारी संस्था होने के कारण इसकी सेवा भी प्रभावकारी होना चाहिए ।’ इसीतरह उद्योग संगठन मोरङ के अध्यक्ष भीम घिमिरे ने कहा कि प्राधिकरण के प्रमुख कार्यकारी घिसिङ के कथानुसार विद्युत आपुर्ति सहज नहीं है । उन्होंने कहा कि प्रधानमन्त्री और ऊर्जा मन्त्री से भी इस समस्या के बारे में जानकारी हो चुकी है ।

Loading...

 
आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: