Sat. Oct 19th, 2019

भारत-नेपाल सांस्कृतिक समन्वय सम्मेलन में 131 शिक्षकों का नई दिल्ली में सम्मान

नई दिल्ली भारत रत्न पूर्व राष्ट्रपति सर्वपल्लवी डा. राधाकृृष्ण के जन्म दिवस पर नई दिल्ली स्थित कृष्णन् मेमन भवन में इण्डो-नेपाल समरसता ओर्गोनाईजेशन द्वारा भारत-नेपाल सांस्कृतिक समन्वय सम्मेलन एवं शिक्षाविद्धो का अभिनन्दन समारोह में नेपाल के प्रथम उपराष्ट्रपति न्यायमूर्ति परमानन्द झा, पूर्व न्यायाधीश सर्वोच्च न्यायालय नेपाल काठमाडों ने भारत रत्न, पूर्व राष्ट्रपति सर्वपल्लवी डा.राधाकृष्ण के चित्र पर माल्यापर्ण कर, दीप प्रज्जवता कर नमन किया इस अवसर पर सभागार में उपस्थित सेकडों शिक्षाविद्धों ने भारत रत्न को नमन किया । भारत-नेपाल सांस्कृतिक समन्वय सम्मेलन का शुभारम्भ वैदिक मंत्राचारों से शुभारम्भ किया मुख्य अतिथी नेपाल सरकार के प्रथम उपराष्ट्रपति न्यायमूर्ति परमानन्द झा ने अपने नागरिक अभिनन्दन में शिक्षकों को भारत-नेपाल की वैदिक कालीन सांस्कृतिक, विरासत, परमपरा पर प्रकाश डालते हुए कहाकि भारत को वैदिक कालीन जगतगुरू के आसन पर पदस्थापित कराने के प्रयास में शिक्षकों की भूमिका की आवश्यकता है नेपाल राष्ट्र समरसता मिशन को नैतिक समर्थन व प्रोत्साहित करेगा भारत के शिक्षकों को नेपाल राष्ट्र का आमन्त्रण पर नेपाल आने का न्योता दिया भारत विकासशील देशों में सम्मलित है। भारत नेपाल के बहुआयामी सम्बन्ध प्राचीन काल से चले आ रहे है। भारत-नेपाल राष्ट्र दो है लेकिन आत्मा एक है। भारत-नेपाल के ऋषि, त्यौहार, गौत्र, शिक्षा, संस्कृति, एक जैसी है। महावीर प्रसाद टोरडी के नेतृत्व में समरसता मिश्न का प्रयास सराहनीय है। भारत-नेपाल की वैदिक कालीन संस्कृति का पुर्नउत्थान हो, भारत पुनः वैदिक कालीन जगतगुरू के आसन पर पदस्थापित हो एवं दुनियां का 8 वां सबसे ताकतवर देश भारत को संयुक्त राष्ट्र संघ की सुरक्षा परिषद में विटोपावर के साथ स्थाई सदस्यता के लिए सदस्य राष्ट्रों का नैतिक समर्थन की अपेक्षा के लिए चलाया जा रहा पे्रेरित अभियान एक प्रंससनिय पहल है। भारत-नेपाल सांस्कृतिक समन्वय प्रतिभाओं अभिनन्दन पत्र प्रदान किया, न्यायमूर्ति गिरिश चन्द लाल पूर्व न्यायाधीश सर्वोच्च न्यायालय नेपाल काठमाडों ने मेडल पहनाकर अभिनन्दन किया, विशिष्ठ अतिथी

डा. प्रदीप डकाल सचिव पशुपति डवलपमेंट एरिया, नेपाल सरकार ने नेपाल राष्ट्र की सम्मानीय टोपी प्रदान किया, विशिष्ठ अतिथी श्री श्री 1008 कालीदास महाराज ने शाल ओडाकर प्रतिभा को आशीर्वाद प्रदान किया

गया। सम्मेलन शुभारम्भ से पूर्व सम्मानीय शिक्षकों का मुख्य द्वारा पर तिलक, बेज फोैल्डर देकर अगवानी की गई है। सम्मेलन में रू.ब.रू. कार्यक्रम के तहत प्रतिभाओं का परिचय कार्य उपलब्धियों का आदान-प्रदान किया गया प्रतिभा का चयन कर्मस्थली से विकास तक सेवा कार्यो का अवलोकन कर अनावरत परिश्रम पर चयन समिति संयोजक प्रो. मोहम्मद शब्बीर पूर्व कुुलपति अलीगढ विश्व विद्यालय द्वारा किया गया है। स्वागत भाषण में इन्टरनेशल कार्डिनेटर महावीर प्रसाद टोरडी ने अतिथीयों का स्वागत करतें हुये भारत-नेपाल सांस्कृृतिक समन्वय समरसता सम्मेलन की कार्ययोजना से अवगत कराया गया समापन पर सचिव कुलदीप प्रसाद शर्मा एडवोकेट ईस्ट वेस्ट लाॅ फर्म नेपाल सर्वोच्च न्यायालय काठमाडों ने आभार प्रकट किया एवं काठमाडों (नेपाल) में 25 दिसम्बर से 31 दिसम्बर तक आयोजित सार्क सदस्य राष्ट्रों का सांस्कृतिक समन्वय सम्मेलन में आने का निमन्त्रण दिया, काठमाडों (नेपाल) में 25 दिसम्बर, 2019 को भारत रत्न पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी जी का जन्म दिवस मनाया जायेगा।

आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *