Mon. May 27th, 2024

आयोग का निर्णय कानून के खिलाफ है – जसपा



काठमांडू, वैशाद २६ – पार्टी विभाजन के विरुद्ध अदालत जाने की तैयारी कर रही हैं जसपा । साथ ही जनता समाजवादी पार्टी (जसपा) नेपाल के केन्द्रीय कार्यकारिणी समिति की बैठक भी आज बुलाई गई है ।
पार्टी केन्द्रीय कार्यालय बालकुमारी ललितपुर में हुए बैठक ने पार्टी विभाजन के विरुद्ध अदालत जाने की औपचारिक निर्णय की है । यह जानकारी प्रवक्ता मनिष सुमन ने दी है ।
अशोक राई के नेतृत्व में सात सांसद अलग हुए थे । अलग होने के उन्होंने एक नई पार्टी जनता समाजवादी पार्टी (जसपा) नामक पार्टी सोमवार को निर्वाचन आयोग में दर्ता करवाई थी । लेकिन जसपा नेपाल का तर्क है कि संसद का अधिवेशन आह्वान हो चुका है, दल विभाजन सम्बन्धी अध्यादेश खारीज कर दिया गया है । ऐसी अवस्था में आयोग का निर्णय कानून के खिलाफ है ।
मंगलवार को हुई शीर्ष नेताओं की अनौपचारिक बैठक ने दल विभाजन विरुद्ध कानूनी उपचार खोजने का निर्णय लिया था । इसी निर्णय को आज केन्द्रीय कार्यकारिणी समिति की बैठक कर औपचारिकता पूरी की जाएगी । ‘बैठक में पिछले समय में विकसित घटनाक्रम की समीक्षा करते हुए इसकी कानूनी उपचार के बारे में भी निर्णय लिया जाएगा । प्रवक्ता सुमन ने जानकारी दी है कि – ‘बैठक के बाद पत्रकार सम्मेलन कर आधिकारिक धारणा सार्वजनिक की जाएगी ।पत्रकार सम्मेलन सुबह साढे ११ बजे पार्टी केन्द्रीय कार्यालय बालकुमारी में ही की जाएगी ।

 



About Author

यह भी पढें   चलचित्र पत्रकारिता दिवस के अवसर पर सम्मान तथा पुरस्कार
आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading...
%d bloggers like this: