Wed. Oct 23rd, 2019

तालिबानियों ने अफगानिस्तान के गजनी प्रांत में कार में बम विस्फोट किया।

काबुल, रायटर्स।

तालिबानियों ने रविवार को अफगानिस्तान के गजनी प्रांत में कार में बम विस्फोट किया। इस हमले में कम से 8 अफगान सुरक्षाबलों समेत 12 लोगों की मौत हो गई। जबकि 50 से अधिक नागरिक इस बम ब्लास्ट में घायल हो गए हैं। तालिबान ने रविवार सुबह भीड़ के घंटे के दौरान गजनी शहर में राष्ट्रीय सुरक्षा निदेशालय (एनडीएस) परिसर के पास बम विस्फोट करने की जिम्मेदारी ली। तालिबान के प्रवक्ता जबीहुल्लाह मुजाहिद ने एक बयान में कहा, ‘इस हमले में दर्जनों राष्ट्रीय सुरक्षा निदेशालय (एनडीएस) के अधिकारी मारे गए या घायल हो गए हैं।’

गजनी में एक प्रांतीय सरकार के प्रवक्ता आरिफ नूरी ने पुष्टि की कि एनडीएस के आठ सदस्यों और विस्फोट में चार नागरिकों की मौत हो गई, जिसमें 50 से अधिक नागरिक घायल हो गए। आरिफ नूरी के मुताबिक, ‘कई घायल लोगों को अस्पताल ले जाया जा रहा है, हालांकि यह तुरंत स्पष्ट नहीं हो पाया है कि हमला आत्मघाती हमलावर ने किया था या नहीं।’

हालांकि यह तुरंत स्पष्ट नहीं हो पाया है कि हमला आत्मघाती हमलावर ने किया था या नहीं। ग़ज़नी शहर के भीड़भाड़ वाले इलाके में हुए इस विस्फोट में तालिबान द्वारा किए गए रोज़-रोज़ के हमलों की एक तस्वीर दिखती है।यह तस्वीर अब लगभग आधे अफ़गानिस्तान पर हावी है और तालिबानी आतंकी, शांति समझौते की दिशा में बढ़ रहे प्रयासों के बावजूद अफ़ग़ान सेना पर हमले तेज कर रहे हैं।

काबुल कार विस्फोट में 34 लोगों की मौत
अफगानिस्तान की राजधानी काबुल एक जुलाई की सुबह एक शक्तिशाली बम धमाके से दहल उठा। काबुल में हुए शक्तिशाली विस्फोट में कम से कम 34 लोगों की मौत हो गई और 68 अन्य घायल हो गए। अधिकारियों ने कहा कि समाचार एजेंसी सिन्हुआ ने बताया कि आतंकवादी पुल-ए-महमूद खान में एक निर्माणाधीन इमारत में घुस गए थे।हालात को नियंत्रित करने के लिए क्षेत्र में पहुंचे सुरक्षा बलों के साथ गोलीबारी भी हुई।

आतंकवादी हमले में 26 जवानों की मौत
इससे पहले अफगानिस्तान के नार्दन बाघलान प्रांक के नाहरीन में हुए आतंकी हमले में अफगाव सिक्योरिटी फोर्सेज के 26 जवानों की मौत हो गई थी और साथ ही आठ जवान घायल हो गए थे। डिस्‍ट्रीक्‍ट चीफ फजलुद्दीन मार्दी ने बताया था कि आतंकियों को भी हमले में काफी चोटें आई थीं। वहीं तालिबान के प्रवक्‍ता जबीउल्‍ला मुजाहिद ने कहा था कि हमले में अफगान फोर्सेज के कई जवान मारे गए हैं। संख्‍या जो बताई जा रही है, उससे कहीं ज्‍यादा है। मुजाहिद के मुताबिक हमले में कई सीनियर कमांडर्स भी मारे गए थे।

आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *