Mon. Aug 3rd, 2020

नागरिकता सम्बन्धी प्रावधान में भेदभाव हैः अनुपराज शर्मा

२९ दिसम्बर, काठमांडू । राष्ट्रिय मानवअधिकार आयोग का अध्यक्ष अनुपराज शर्मा ने बताया कि नागरिकता सम्बन्धी प्रावधान में भेदभाव है । राज्यविहीनता विरुद्ध अन्तर्राष्ट्रीय कानुनों का संगालो’ विमोचन कार्यक्रम में बोलते हुये अध्यक्ष शर्मा ने उक्त जानकारी दिया है ।
उन्होंने कहा कि ‘संविधान में ही नागरिकता सम्बन्धि प्रावधानें विवादित है । पिता विदेशी और मां स्वदेशी यह भी एक समस्या है परन्तु पिता नेपाली और मां विदेशी होने पर कोई समस्या नहीं है ।
शर्मा ने कहा कि वंशज का आधार पुरुष से ही शुरु होता है । अगर पिता नेपाली है तो नागरिकता वंशज होगा और माता नेपाली भी है तो नागरिकता वंशज नहीं मिलेगा । विदेशी माता की बात ही नहीं । यह प्रावधान अपने आप में विभेदपूर्ण है ।
उन्होंने बताया कि राष्ट्रियता के हिसाब से महिला महासन्धियां कितना उपयुक्त है ? इसी जानकारी के उद्देश्य से ‘राज्यविहिनता विरुद्ध अन्तर्रा्ष्ट्रिय कानुनहरुको संगालो’ पुस्तक नेपाली अनुवाद कर विमोचन किया है ।
राष्ट्रिय महिला आयोग तथा महिला कानुन और विकास मञ्च द्वारा कार्यक्रम का आयोजन किया गया था ।

आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading...
%d bloggers like this: