Thu. Apr 9th, 2020

कांग्रेस नेतृत्व विधान विपरित संचालितः कोइराला

  • 165
    Shares

काठमांडू, ३१ जनवरी । नेपाली कांग्रेस के नेता शेखर कोइराला ने कहा है कि कांग्रेस नेतृत्व नेविसंघ का विधान विपरित संचालित है, जिसके चलते विद्यार्थियों को अनशन पर बैठना पड़ रहा है । पार्टी कार्यालय सानेपा में जारी अनशन पर बिहीबार ऐक्यबद्धता व्यक्त करते हुए उन्होंने ऐसा कहा है । उनका मानना है कि पार्टी नेतृत्व ने विधान के विपरित नेविसंघ का नयां नेतृत्व चयन किया है ।
नेता कोइराला ने कहा– ‘पार्टी नेतृत्व ने पार्टी के विधान विपरित नेविसंघ का नेतृत्व चयन किया है । नेविसंघ का विधान में उल्लेख है कि ३२ साल से अधिक उम्रमवाले व्यक्ति नेविसंघ में नेतृत्व नहीं कर सकते, लेकिन उसके विपरित जाकर पार्टी ने नेविसंघ का नेतृत्व चयन किया । भागबंडा के कारण उम्र हद को भी खयाल नहीं किया गया ।’ उनका मानना है कि भागबंडा के कारण ही नेविसंघ में ९ महामन्त्री बनाया जा रहा है, जो आवश्यक नहीं है ।
स्मरणीय है, विधान विपरित नेविसंघ नेतृत्व चयन संबंधी विषयों को लेकर नेविसंघ के कुछ कार्यकर्ता ४ दिनों से पार्टी कार्यालय सानेपा में अनशन पर बैठ रहे हैं ।

Loading...

 
आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: