Thu. Feb 20th, 2020

हॉट टी या आइस टी ? क्या है आपके लिए फायदेमन्द

  • 71
    Shares

चाय दुनिया भर में सबसे प्रसिद्ध पेय है। इसका ताज़ा स्वाद और इसके चमत्‍कारी गुण सुस्त और तनावपूर्ण दिन को उर्जा में बदल सकता है। कुछ लोगों के लिए सुबह एक कप गर्म चाय (Hot tea) दिन की शुरुआत होती है। जबकि कुछ के लिए आइस टी गर्मियों में गर्मी को मात देने के लिए एक आदर्श पेय है। कोई फर्क नहीं पड़ता कि आपको किस तरह की चाय पसंद है- हॉट या आइस, ग्रीन या ब्‍लैक। मगर आप इसकी लोकप्रियता को नजरअंदाज नहीं कर सकते हैं। लेकिन इसके आरामदायक स्वाद और सुगंध के अलावा, हर दिन चाय पीने के कुछ स्वास्थ्य लाभ भी हैं।

हॉट टी या आइस टी?
यदि आप नियमित रूप से चाय पीते हैं तो इस बात की संभावना अधिक है कि आप एक निश्चित तरीके से चाय पीना पसंद कर सकते हैं। कुछ लोग ऑफिस से लौटने के बाद एक कप गर्म चाय पीना पसंद करते हैं, जबकि कुछ लोग बर्फ के टुकड़ों के साथ आइस टी पीना पसंद करते हैं। मगर इनके कुछ फायदे और नुकसान भी है।

एंटीऑक्सीडेंट
चाय अपने एंटीऑक्सीडेंट गुणों के लिए जानी जाती है। लेकिन आपके शरीर में बनने वाले एंटीऑक्सीडेंट की मात्रा इस बात पर निर्भर करती है कि आप किस तरह के पत्तों का इस्तेमाल करते हैं और कितना गर्म है। दूध की चाय में एंटीऑक्सिडेंट की अधिकतम मात्रा पाई जाती है और वह भी तब जब इसे लंबे समय तक भिगोकर छोड़ दिया जाता है। यह ग्रीन टी में भी आम है। इसलिए यदि आप एंटीऑक्सिडेंट का अधिकतम सेवन करना चाहते हैं, तो इसे ठंडे पानी में भिगोना एक अच्छा विचार है।

गर्म चाय से कैंसर का खतरा बढ़ सकता है
अत्यधिक गर्म चाय पीना कैंसर से जुड़ा हुआ है। 2018 के अध्ययन के अनुसार, गर्म चाय पीने से कैंसर का खतरा बढ़ सकता है। इस बीमारी के विकास की संभावना उन लोगों में अधिक है जो धूम्रपान करते हैं। 2019 में इंटरनेशनल जर्नल ऑफ कैंसर में प्रकाशित एक अन्य अध्ययन से पता चला है कि उबालने के तुरंत बाद चाय पीने से एसोफैगल कैंसर के विकास का खतरा बढ़ सकता है।

मोटे लोगों के लिए आइस्ड टी है बेहतर विकल्‍प
वजन कम करने की कोशिश कर रहे लोगों के लिए बिना उबली और आइस्ड चाय फायदेमंद है। यह उच्च रक्तचाप और अन्य हृदय संबंधी समस्याओं की समस्या से जूझ रहे मोटे लोगों के लिए भी अच्छा हो सकता है।

आइस टी पीने के अन्य फायदे
आइस टी में न केवल एंटीऑक्सिडेंट होते हैं, बल्कि यह अन्य पोषक तत्वों से भी भरा होता है। विज्ञान के अनुसार, यदि आप उनके लाभों को पाना चाहते हैं, तो ठंडा या आइस टी पीना शुरू करें। कोल्ड टी में गैलिक एसिड और एपिगैलोकैटेचिन गैलेट जैसे अतिरिक्त बायोएक्टिव कंपाउंड होते हैं।

Loading...

 
आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: