Thu. Apr 2nd, 2020

Day: October 5, 2019

श्रीमद्भगवद गीता,ईश्वर के समीप जाने का गीता एक सरल पथ है : योगेश मोहनजी गुप्ता

योगेश मोहनजी गुप्ता, मेरठ । आज विश्व में निरंतर परिवर्तन आ रहें हैं। पुरानी वस्तुओं

 

छोटी बालिकाएँ देवी का स्वरूप, नवरात्रि में इनकी विशेष पूजा का महत्तव

श्रीमद्देवीभागवत महापुराण के तृतीय स्कंध के अनुसार दो वर्ष की कन्या को कुमारी कहते हैं।

 

कलरात्रि सदैव शुभ फल देने वाली माता हैं

एकवेणी जपाकर्णपूरा नग्ना खरास्थिता।लम्बोष्ठी कर्णिकाकर्णी तैलाभ्यक्तशरीरिणी॥वामपादोल्लसल्लोहलताकण्टक भूषणा।वर्धन्मूर्धध्वजा कृष्णा कालरात्रिर्भयंकरी॥” अपने महा विनाशक गुणों से शत्रु