Fri. Jul 3rd, 2020

नेपाल पुलिस को मधेशी मुक्त बनाने के षडयन्त्र में गृहमन्त्रालयः सांसद् यादव

  • 612
    Shares

काठमांडू, ७ जून । प्रतिनिधिसभा सदस्य प्रदीप यादव ने दावा किया है कि गृह मन्त्रालय नेपाल पुलिस को मधेशी मुक्त पुलिस संगठन निर्माण के षडयन्त्र में लगा है । मन्त्रालय अनुसार विनियोजित विधेयक संबंधी विषय में आइतबार संसद् बैठक को सम्बोधन करते हुए उन्होंने ऐसा दावा किया है । उनका कहना है कि नेपाल पुलिस में रहे सिनियर मधेशी पुलिस अधिकृत को डीआईजी ना बनाकर गृह मंत्रालय ने इसतरह का षडयन्त्र किया है ।
सांसद् यादव ने कहा कहा कि तीन महीनों से गृह मंत्रालय नेपाल पुलिस में रहे पुलिस अधिकारियों की बढ़ोत्तरी और तबदला में लगा है, जिसमें सिनियर को जुनियर और जुनियर को सिनियर बनाने का काम हो रहा है । उनका कहना है कि इसमें मधेशी पुलिस अधिकारी ज्यादा पीडित हो रहे हैं । उन्होंने कहा कि मधेशी पुलिस अधिकृत को बढ़ोत्तरी से बंचित किया जा रहा है । सांसद् यादव ने कहा है कि इसतरह का विभेद जारी रहेगा तो आगामी २० साल तक कोई भी मधेशी डीआईजी पद में नहीं पहुँच पाएंगे । सांसद् यादव ने आगे कहा कि बिगत ३ महीना में एसएसपी से ३ व्यक्ति डीआईजी हो गए हैं, उसमें एक भी मधेशी नहीं हैं । उनका कहना है कि यहां समानुपातिक और समावेशी सिद्धान्त का उलंघन हो गया है ।
इसीतरह सांसद् यादव ने पर्सा जिला बेलवा लालपर्सा स्थित भेडहा नदी नियन्त्रण के लिए विशेष बजट का मांग भी किया है । पर्सा निर्वाचन क्षेत्र नं. १ से निर्वाचित सांसद् यादव का कहना है कि भेडहा नदी के कारण हर साल यहां हजारों गांवबासी प्रभवित हो रहे हैं । विशेषतः वीरगंज महानगरपालिका अन्तर्गत रहे बेलवा, इसलामपुर, लालपर्सा, परसोतीपुर आदि गांव अधिक प्रभावित है ।

आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading...
%d bloggers like this: