item-thumbnail

पप्पु कन्ट्रक्सन और मेरे ऊपर नियोजित आक्रमण हो रहा है : सांसद रौनियार

0 July 6, 2018

राजनीतिक वृत्त में आर्थिक समृद्धि संबंधी मुद्दा को लेकर विगत कुछ सालों से जो गरमा–गरम बहस हो रहा है, वह आज भी जारी है । सरकार में शामील राजनीतिक पार्ट...

item-thumbnail

फोरम नेपाल पर्सा में नेतृत्व विवाद ?

0 July 3, 2018

वीरगंज, ३ जुलाई । कुछ दिन पहले समाचार आया कि संघीय समाजवादी फोरम नेपाल (पर्सा) जिला नेतृत्व को लेकर पार्टी के भीतर विवाद हो रहा है । फोरम नेपाल सम्बद्...

item-thumbnail

नेताओं को सरकार में शामिल होने से रोकेंगे : रञ्जित कुमार सिंह

0 June 22, 2018

हिमालिनी,मई अंक ,२०१८ | मधेशी जनता के लिए राष्ट्रीय जनता पार्टी (राजपा) नेपाल निर्माण होना ही सबसे सुखद पक्ष है । मैं तो कहता हूँ कि यह सिर्फ ६ पाटिर्...

item-thumbnail

राजपा की उपलब्धि उत्साहजनक : विनिता यादव

0 June 22, 2018

हिमालिनी, मई अंक, २०१८ | राजपा नेपाल नई पार्टी है, एक साल के आन्दर पार्टी ने जो उपलब्धि हासिल की है, वह हमारे लिए उत्साहजनक है । राजपा को तराई–मधेश की...

item-thumbnail

राजपा को राष्ट्रीय पार्टी बनाने की जरुरत : डा. सुरेन्द्र कुमार झा

0 June 20, 2018

हिमालिनी, मई अंक, २०१८ | आज हम लोग जहां हैं, उस को देखकर ज्यादा उत्साहित होने की जरूरत नहीं है । इसका मतलब अवस्था निराशाजनक है, यह भी नहीं है । सामान्...

item-thumbnail

बहस – कैसी होगी राजपा की आगामी यात्रा ?

0 June 19, 2018

हिमालिनी, मई अंक २०१८ | एक साल पहले (वैशाख ७, २०७४) मधेशवादी विभिन्न ६ पार्टियाें ने मिलकर राष्ट्रीय जनता पार्टी (राजपा) का गठन किया था । गत वैशाख ७ ग...

item-thumbnail

हमारी मान्यता के अनुसार संविधान संशोधन करवाना है : शरतसिंह भण्डारी

0 June 19, 2018

हिमालिनी, मई अंक, २०१८ | राजपा के पास अवसर और चुनौती दोनों है । आज हमारे सामने मधेशी जनता को विश्वास दिलाना है कि राजपा मधेशी जनता के लिए ही काम कर रह...

item-thumbnail

संशोधन अपरिहार्य है, जिससे की देश और राज्य भी हमारा हो सके : मनिष सुमन

0 June 8, 2018

हिमालिनी, मई अंक ,२०१८ | आज के लिए राजपा की प्रथम प्राथमिकता तो संविधान संशोधन ही है । इसके लिए हम लोग लग रहे हैं । क्योंकि आज जो संविधान है, वह मधेश ...

item-thumbnail

संघर्ष का विकल्प नहींं है : केशव झा

0 June 6, 2018

हिमालिनी, मई अंक, २०१८ | जिस समय राजपा पार्टी निर्माण हो रही थी, उस समय हम लोग संघर्ष में ही थे । पार्टी गठन होने के बाद भी संघर्ष जारी रहा है । कुछ व...

item-thumbnail

मांग सम्बोधन किए बिना सरकार में शामिल नहीं होंगे : राजेन्द्र महतो

0 June 6, 2018

हिमालिनी, मई अंक २०१८ | आज राजपा के सामने मुख्यतः दो कार्यनीति है । प्रमुख कार्यनीति शक्तिशाली संगठन का निर्माण करना है, उसके लिए पार्टी को महाधिवेशन ...

item-thumbnail

कौन करते हैं सोने की तस्करी ?: लिलानाथ गौतम

0 May 30, 2018

नेताओं के संरक्षण बिना सिर्फ कर्मचारी और व्यापारियों से इस तरह की तस्करी सम्भव नहीं है हिमालिनी, मई अंक ,२०१८ | नेपाल में सोना–तस्करी सामान्य बात हैं ...

item-thumbnail

मानवीय संवेदनशीलता को भी समझना होगा-हिसिला यमी

0 May 21, 2018

आज हम लोग विकास की बात कर रहे हैं । ‘विकास’ शब्द के प्रति हिटलर भी आकर्षित हुआ था । हिटलर इस कारण भी प्रसिद्ध हुए था कि उसने एक ‘नेशनल हाइवे नेटवर्क’ ...

item-thumbnail

मोदी भ्रमणः नेपाल–भारत संबंध में ‘आइसब्रेक’: माधव नेपाल

0 May 20, 2018

काठमांडू, २० मई । नेपाल कम्युनिष्ट पार्टी के वरिष्ठ नेता तथा पूर्व प्रधानमन्त्री माधव कुमार नेपाल ने कहा है कि भारतीय प्रधानमन्त्री नरेन्द्र मोदी जी क...

item-thumbnail

हमारे राजनीतिज्ञों में साहस और दृष्टिकोण नहीं है -प्रो. जयराज आचार्य

0 May 19, 2018

चाहे नेपाल हो अथवा भारत, दोनों की प्राथमिकता आज विकास ही है । लेकिन विकास कैसे किया जाए, यह चुनौतीपूर्ण है । आप लोग विकसित भारत की बात करते हैं, लेकिन...

item-thumbnail

चुनौती जो कल थी आज भी वही- मनजीवसिंह पुरी

0 May 2, 2018

हिमालिनी अप्रैल अंक ,२०१८ | हमें लगता है कि वर्तमान सरकार की प्राथमिकता और चुनौती जो कल थी आज भी वही है । नेपाल के लिए विकास ही सबसे बड़ी आवश्यकता है ...

item-thumbnail

राजपा के पास अवसर और चुनौती दोनो है : शरतसिंह भण्डारी

0 April 23, 2018

काठमांडू, २३ अप्रिल । राष्ट्रीय जनता पार्टी (राजपा) के नेता शरतसिंह भण्डारी ने कहा है कि वर्तमान अवस्था में राजपा के पास अवसर और चुनौती दोनों है । राज...

item-thumbnail

संविधान संशोधन के लिए वैकल्पिक रास्ता की जरुरत हो सकती है : अनिलकुमार झा

0 April 22, 2018

काठमांडू, २२ अप्रिल । राष्ट्रीय जनता पार्टी (राजपा) नेपाल के अध्यक्ष मंडल के सदस्य नेता अनिलकुमार झा ने कहा है कि अभी राजपा संविधान संशोधन के लिए सरका...

item-thumbnail

जनता की चाहतः ‘लुटेरा सांसद्’ मुक्त समाज

0 April 6, 2018

इतिहास देखते हैं तो पता चलता है कि जनता के वोट से निर्वाचित हमारे अधिकांश जनप्रतिनिधि अपने शपथपत्र के ठीक विपरित क्रियाकलाप करते आ रहे हैं । मैं.. देश...

item-thumbnail

ओली में संकीर्णता, आग्रह और प्रतिशोध की भावना है-सीपी मैनाली

0 April 4, 2018

हिमालिनी, मार्च अंक, 2018 । माओवादी आन्दोलन के जग में ‘प्रचण्ड’ के नाम राजनीति में पुष्पकमल दाहाल का उदय हुआ था, उसी तरह किसी समय में कामरेड ‘सुभाष’ क...

item-thumbnail

संविधान को बाइबल,कुरान,गीता बनाइएगा तो सब कुछ नाश हो जाएगा : राजेन्द्र महतो

0 April 1, 2018

पुरानी सोच त्याग करें, नया नेपाल का निर्माण अवश्य होगा नश्लीय चिन्तन को हटाते हैं तो नेपाल बन जाएगा । नेपाली सोच ओर चिन्तन बनावें, नश्लीय सोच और चिन्त...

item-thumbnail

शिक्षा और सामाजिक चेतना के विकास का काम करना चाहती हूँ : सलमा खातुन

0 March 16, 2018

सलमा खातुन पूर्व पत्रकार हैं, वीरगंज स्थित ठाकुरराम बहुमुखी कैम्पस में स्नातक तह में अध्ययन करते वक्त सलमा विद्यार्थी राजनीति से आबद्ध हुईं, उस समय प्...

item-thumbnail

शहीदों की खेती ! : लिलानाथ गौतम

0 March 7, 2018

शहीद कौन है ? क्या राजनीतिक पार्टी और उनके नेताओं की स्वार्थ में सरकारी सुरक्षाकर्मियों के साथ लड़कर मरनेवाले ही शहीद हैं ? नहीं, यह तो हो ही नहीं सकत...

item-thumbnail

समृद्ध मधेश चाहते हैं तो एमाले पर ही विश्वास करना पड़ेगा

0 February 28, 2018

विनोदकुमार खड्का की राजनीतिक यात्रा वि.सं. २०३८ साल से शुरु हुई है । वामपन्थी विचार धारा से प्रभावित होकर उन्होंने तत्कालीन अनेरास्ववियु ५वें से अपनी ...

item-thumbnail

६९वें गणतन्त्र दिवस पर भारतीय दूतावास द्वारा शुभकामना कार्यक्रम फोटो फिचर सहित

0 January 26, 2018

काठमांडू, २६ जनवरी । भारत के ६९वें गणतन्त्र दिवस एवं २६ जनवरी के अवसर पर भारतीय दूतावास काठमांडू द्वारा शुभकामना विशेष कार्यक्रम आयोजन की गई है । काठम...

item-thumbnail

ठोडी दो नम्बर प्रदेश का है और रहेगा

0 January 24, 2018

लक्ष्मणलाल कर्ण सांसद लक्ष्मण लाल कर्ण ने कहा, ठोड़ी हालात पर्सा के अन्य जगह से भिन्न नही है, वहां भी पानी का अभाव है, नदी के कटाव की समस्या है, सड़के...

item-thumbnail

समान शिक्षा की आवश्यकता – प्रकाश खण्डेलवाल

0 January 22, 2018

वीरगंज के विकास के लिए इसकी चुनौती क्या है ? सर्वप्रथम इसकी पहचान होनी जरुरी है । उसकेरु बाद ही हम लोरुरुग समग्र विकास केरुरु बाररुेरुरु मेरुरुं बात क...

item-thumbnail

पूँजी, स्रोत और टेक्नोलॉजी -महेशकुमार सराबगी

0 January 22, 2018

विकास के लिए तीन चीजें आवश्यक हंै– प्रथम पूँजी, दूसरा साधन–स्रोत और तीसरा टेक्नोलॉजी । इन तीन चीजों का सही सदुपयोग करेंगे तो हम लोग जहां कही भी विकास ...

item-thumbnail

व्यवस्थापन सही होनी चाहिए – मनोज कुमार दास

0 January 21, 2018

वीरगंज देश का प्रमुख ट्रान्जिट प्वाइन्ट है । काठमांडू से सबसे नजदीक का ट्रान्जिट प्वाइट होने के कारण इस का महत्व भी सबसे ज्यादा ही है, इस को बनाए रखना...

item-thumbnail

आर्थिक राजधानी होना ठीक रहेगा – मनोज उपाध्याय

0 January 21, 2018

आर्थिक दृष्टिकोण से पूरे देश के लिए वीरगंज का जो महत्व और भूमिका है, वह गौरवपूर्ण है । लेकिन इसका सही मूल्यांकन राज्य की ओर से नहीं हो रहा है । यह हमा...

item-thumbnail

एक हिन्दी दैनिक की आवश्यकता- सुनिल कुमार खेतान

0 January 20, 2018

वीरगंज का समग्र विकास के सन्दर्भ में हम लोगों ने कई बातें कही है । भौतिक, सामाजिक, आर्थिक, औद्योेगिक, शैक्षिक आदि विकास के सन्दर्भ में हम लोगों ने बहस...

item-thumbnail

प्रदेश राजधानी बनाया जाए – प्रदीप कुमार केडिया

0 January 20, 2018

वीरगंज का समग्र विकास और चुनौती संबंधी विषय में हम लोग बार–बार बहस करते आ रहे हैं । लेकिन अभी तक उसका समाधान नहीं ढूंढ पाए हैं । फिलहाल राजनीति में वि...

item-thumbnail

कृषि का आधुनिकीकरण और औद्योगिक शान्ति ही समृद्धि का आधार- हरि गौतम

0 January 19, 2018

मुझे लगता है कि हम लोगों को सिर्फ वीरगंज का विकास ही नहीं, समग्र २ नम्बर प्रदेश का विकास कैसे हो इस में बहस करना चाहिए । इसके लिए यहां की सम्भावनाएं क...

item-thumbnail

वीरगंज औद्योगिक राजधानी बने -सुबोध कुमार गुप्ता

0 January 19, 2018

हमारी ही नहीं यह सबकी इच्छा है कि वीरगंज का विकास होना चाहिए । कैसे हो और कहाँ से शुरुआत की जाए ? वीरगंज को आर्थिक नगरी और मॉडल सिटी के रूप में कैसे व...

item-thumbnail

वीरगंज का समग्र विकास और चुनौतियां

0 January 19, 2018

पूरे देश के लिए वीरगंज एक महत्वपूर्ण शहर है, जिसको आर्थिक नगरी के रूप में जाना जाता है । देश के महत्वपूर्ण उद्योग और उद्योगी यहीं से प्रतिनिधित्व करते...

item-thumbnail

बीमा बाजार में नेपाल लाइफ ने खुद को अव्वल साबित किया है

0 January 8, 2018

कहा जाता है कि नेपाल में बीमा के बारे में बहुत कम लोग जानकार हैं । लेकिन आज बीमा कम्पनियों की संख्या इस तरह बढ़ रही है कि उल्लेखित कथन में विश्वास करन...

item-thumbnail

हमारी आवाज की गलत व्याख्या की जाती है (भाग १)

0 November 20, 2017

लेकिन नेपाल–एकीकरण का इतिहास देखें तो वहां अपने ही देश में रहनेवाले अलग जाति और भाषा–भाषी वाली जनता के नाक, कान और हाथ–पैर काट दिए गए हैं विभेदपूर्ण इ...

item-thumbnail

काला कीर्तिमान, इतिहास में ही सबसे बड़ा मन्त्रिमंडल : लिलानाथ गौतम

0 October 11, 2017

लिलानाथ गौतम नेपाल के कानुन अनुसार शादी–विवाह में ५१ से ज्यादा लोगों को बारात ले जाना गैर कानुनी होता है । लेकिन वहीं कानून बनाने वाले हमारे नेता आवश्...

item-thumbnail

धान दिवस की सार्थकता : लिलानाथ गौतम

0 August 20, 2017

लिलानाथ गौतम नेपाल कृषि प्रधान देश है, धान को ही यहां प्रमुख खाद्यान्न माना जाता है । तथ्यांक  के अनुसार धान, गेहूँ, मकई, मड़वा, जौ, फापर आदि कुल खाद्...

item-thumbnail

राजपा ९०% मधेश की जनता की प्रतिनिधित्व नहीं करती : महाजन यादव

0 August 2, 2017

महाजन यादव, केन्द्रीय सदस्य (संघीय समाजवादी फोरम नेपाल) संघीय समाजवादी फोरम नेपाल की ५वीं केन्द्रीय कार्य समिति की बैठक सम्पन्न हो गई है । चुनावी समीक...

item-thumbnail

साझा पार्टी एक वैकल्पिक शक्ति के रूप में आगे बढ़ रही हैः रमेश महर्जन

0 July 1, 2017

पहले चरण के निर्वाचन होने से लगभग दो महीने पहले साझा पार्टी का गठन हुआ था, जो आज राजनीति में अपने को वैकल्पिक शक्ति के रूप में परिचित कराना चाहती है ।...

item-thumbnail

वैकल्पिक ‘नयी शक्ति’ पीछे क्यों ?

0 June 25, 2017

इस निर्वाचन में नयां शक्ति नेपाल, विवेकशील नेपाली और साझा पार्टी ने अपने को वैकल्पिक शक्ति कहते हुए निर्वाचन में भागीदारी जतायी थी । इन तीन समूहों में...

item-thumbnail

व्यवस्थित और समृद्ध सूर्यविनायक मेरा सपना : विष्णुराज कार्की

0 May 11, 2017

देश स्थानीय चुनाव में जा चुका है । पूरे देश में ७४४ स्थानीय निकाय हैं, जहाँ दो चरणों में चुनाव होने वाले हैं । सरकार द्वारा की गई घोषणा के अनुसार प्रथ...

item-thumbnail

ज्ञानेन्द्र शैली का चुनाव होने जा रहा है : गंगा श्रेष्ठ

0 April 22, 2017

काठमांडू । २२ अप्रैल | सरकार ने आगामी वैशाख ३१ गते के लिए स्थानीय निर्वाचन घोषणा किया है । हम लोग भी चाहते हैं कि उस निर्वाचन में सहभागी बने । लेकिन स...

item-thumbnail

शर्मनाक वरिष्ठता विवाद -लिलानाथ गौतम

0 April 19, 2017

वर्तमान सरकार में तीन उप–प्रधानमंत्री हैं– विमलेन्द्र निधि, कृष्णबहादुर महरा और कमल थापा । इन तीन में से विमलेन्द्र निधि और कमल थापा में कौन वरिष्ठ है...

item-thumbnail

मधेशी मोर्चा की सहमति बिना चुनाव कराना ठीक नहीं है:बुद्धिमान तामाङ, उपाध्यक्ष

0 April 1, 2017

राष्ट्रीय प्रजातन्त्र पार्टी (राप्रपा) के चिर–परिचित नेता हैं– बुद्धिमान तामाङ । पञ्चायतकाल से ही राजनीति में सक्रिय तामाङ विभिन्न कालखण्ड में बहुत बा...

item-thumbnail

वो ‘शक्ति’ जो नई शक्ति नहीं बन सकी : लीलानाथ गौतम

0 March 27, 2017

तकरीबन ५ लाख सदस्य–संख्या इकठ्ठा कर पार्टी घोषणा किया गया है, ऐसा दावा करनेवाला नया शक्ति पार्टी की वास्तविक हालात हाल ही में सम्पन्न विद्यार्थी संगठन...

item-thumbnail

चुनाव की घोषणा ही एक मात्र विकल्प

0 January 29, 2017

पुण्य गौतम ‘विश्वास’ एक राजनीतिज्ञ के साथ–साथ लेखक भी हैं । और एक प्रखर वक्ता के रूप में भी उन्हें जाने जाते हैं । गौतम का राजनीतिक जीवन आरोह–अवरोध रह...

item-thumbnail

हिमाल–पहाड़–तराईः एक शरीर है, अलग करेंगे तो कोई भी अंग काम नहीं करेगा

0 January 4, 2017

नेकपा एमाले के नेता तथा पूर्व सामान्य प्रशासनमन्त्री लालबाबु पण्डित, सरल जीवन जीते हैं और उच्च विचार रखते हैं । पण्डित की निजी जीवनशैली और विचार से नि...

item-thumbnail

कांग्रेस,एमाले और माओवादी को स्पष्ट हो कि उनकी नीयत क्या है ? लिलानाथ गौतम

0 January 3, 2017

लिलानाथ गौतम, काठमांडू,३ जनवरी | कहने के लिए तो सभी राजनीतिक दल कह रहे हैं– संशोधन के लिए हमारी पार्टी तैयार है । कैसे संशोधन कर सकते हैं, इसमें कोई भ...

item-thumbnail

संशोधन प्रस्ताव पारित नहीं हो सकता : पुण्य प्रसाद गौतम

0 December 31, 2016

काठमांडू, १६ पुस | नेकपा माले के पोलिटव्युरो सदस्य तथा युवा नेता पुण्यप्रसाद गौतम ‘विश्वास’ ने कहा है कि सरकार द्वारा संसद में पंजीकृत संविधान–संशोधन ...

item-thumbnail

१५ साल की सीमा चौधरी ने सबको चकित करतेहुये नंगे पाँऊ दौड कर जीती कास्य पदक

0 December 27, 2016

काठमांडू, २७ दिसम्बर ।  वैसे तो सीमा खूद को भी विश्वास नहीं किया था कि वह कास्य पदक जितने में सफल होगी । लेकिन हो गया चमत्कार ! रियो ओलम्पिक में राष्ट...

item-thumbnail

नयाँ शक्ति के साथ कार्यगत एकता मधेशी मोर्चा द्वारा अस्वीकार : डा. भट्टराई निराश

0 December 25, 2016

काठमांडू, २५ दिसिम्बर | कुछ दिनों से बाजार में चर्चा किया जा रहा है कि नयाँ शक्ति नेपाल और संघीय समाजवादी फोरम के बीच पार्टी एकता होनेवाला है और मधेशी...

item-thumbnail

संविधानः संशोधन नहीं, कार्यान्वयन आज की आवश्यकता –लालबाबु पण्डित

0 December 3, 2016

काठमांडू, ३ दिसिम्बर |हि.स.नेकपा एमाले के नेता लालबाबु पण्डित ने कहा है कि संविधान संशोधन नहीं, उसका कार्यान्वयन आज की आवश्यकता है । हिमालिनी से हुई ब...

item-thumbnail

दलों की नीयत साफ होनी चाहिए

0 November 30, 2016

एमाले निर्णय करता है– ५ नम्बर प्रदेश में कोई भी परिवर्तन नहीं हो सकता । नेपाली कांग्रेस और एमाले के कुछ प्रभावशाली नेताओं का गर्जन है– किसी भी हालात म...

item-thumbnail

मधेश को पहाड़ समझ में आना चाहिए और पहाड़ के मधेश- युवराज चौलागाई

0 November 30, 2016

युवराज चौलागाई नेकपा माओवादी केन्द्र के युवा नेता हैं । पार्टी के भीतर उनकी जिम्मेदारी पोलिटव्युरो सदस्य तथा विदेश विभाग सचिव के रूप में है । अन्तर्रा...

item-thumbnail

मुखर्जी का भ्रमण और छुट्टी को लेकर आलोचना, कमजोर मानसिकता की उपज : युवराज चौलागाईं

0 November 1, 2016

 युवराज चौलागाईं, काठमांडू, १ नवम्बर । मुखर्जी का नेपाल भ्रमणः दोनों देशों के लिए महत्वपूर्ण अवसर लगभग १८ साल के बाद नेपाल में भारत के राष्ट्र प्रमुख ...

item-thumbnail

ओली प्रधानमन्त्री के प्रति आक्रामक, अपने ही पीठ थप–थपाते किया अपमान

0 September 27, 2016

काठमांडू, ११ अश्वीन प्रमुख प्रतिपक्ष दल नेकपा एमाले के अध्यक्ष केपी शर्मा ओली, प्रधानमन्त्री पुष्पकमल दाहाल प्रचण्ड के प्रति संसद् में आक्रमक रुप में ...

item-thumbnail

हम लोग मनोरञ्जन का साधन हैं :रमन

0 September 5, 2016

मोडलिङ एवं फिल्मी दुनिया में संघर्षरत व्यक्तित्व हैं– रमन पहाड़ी । उनका स्थायी ठिकाना पोखरी–३, लुम्ती (सिन्धुली) है । वह महेन्द्ररत्न क्याम्पस ताहचल के...

item-thumbnail

दो नम्बर प्रदेश अधुरा है, उसे पहाड से जोड़ना चाहिए : माधव ढुंगेल

0 September 1, 2016

काठमांडू, १ सितम्बर । राज्य पुनसंरचना (संघीय राज्य का सीमांकन) सम्बन्धी विषयों को लेकर राजनीतिक वृत्त में गर्मागर्म बहस जारी है । नयाँ संविधान जारी कर...

item-thumbnail

सरकार के लिए मधुमास का समय नहीं हैः शोभाकर पराजुली

0 August 28, 2016

नेपाली कांग्रेस के भीतर बौद्धिक और तार्किक नेता के रूप में परिचित हैं– शोभाकर पराजुली । राजनीतिक विश्लेषक एवं लेखक के रूप में भी परिचित पराजुली नेपाली...

item-thumbnail

तीन सूत्रीय समझौता ही संविधान कार्यान्वयन का आधार: पराजुली

August 4, 2016

काठमांडू, ४ अगस्त । नेपाली कांग्रेस के नेता एवं राजनीतिक विश्लेषक शोभाकर पराजुली ने बताया है कि नेपाली कांग्रेस, नेकपा माओवादी केन्द्र और मधेशी मोर्चा...

item-thumbnail

हम अन्धराष्ट्रवाद से मुक्त होना चाहते हैं

August 2, 2016

राजनीतिक वृत्त में नया शक्ति और डा. बाबुराम भट्टराई को लेकर बहस करने वालों की कमी नहीं है । कुछ हप्ता पहले ही डा. भट्टराई के संयोजकत्व में ‘नयाँ शक्ति...

1 2